सहाराकर्मियों को पांच करोड़ 65 लाख रूपये दिलवा वाले सहारियन कामकार संगठन के अध्यक्ष जेल से रिहा*

लखनऊ (मानवी मीडिया) सहारा समूह के हजारों कर्मियों को बकाया वेतन और न्याय दिलाने के लिये संघर्शरत सहारियन कामगार संगठन के अध्यक्ष ऋषि कुमार त्रिवेदी को आज रिहा कर दिया गया। ा। रिहा के मौके पर जेल पर सैकड़ों लोग स्वागत के लिये मौजूद थे। मालूम हो संगठन के कार्यों को प्रभावित करने के लिये ग्रुप की ओर से दर्ज कराये गये गलत तथ्यों पर आधारित एक मुकदमें में बीते 29 नवम्बर को स्थानीय न्यायालय ने संगठन के अध्यक्ष ऋशि कुमार त्रिवेदी और महामंत्री निर्भय सक्सेना को न्यायिक हिरासत में लेकर जेल भेज दिया था, जिनकी जमानत कल हो गयी थी। जेल से रिहा होने के बाद संगठन के अध्यक्ष ऋशि कुमार त्रिवेदी ने कहा कि कर्मियों को न्याय मिलने तक सहारियन कामगार संगठन लड़ाई लड़ती रहेगी, और हम उनके द्वारा दर्ज कराये जा रहे फर्जी मुकदमों की आड़ में जेल भेजने का कुचक्र रचने वाले सहारा ग्रुप से भयभीत होने वाले नहीं है। उन्होंने संगठन द्वारा लड़ी जा रही लड़ाई के बारे जिक्र करते हुये बताया कि सहारियन कामगार संगठन हाईकोर्ट के निर्णय के द्धारा पांच करोड़ 65 लाख रूपये कर्मियों को बकाया वापस दिलवा चुका है और अभी भी सैकड़ों कार्यकर्ताओं का वाद बकाया वेतन एवं ट्रांसफर टर्मिनेशन को लेकर माननीय लेबर कोर्ट में चल रहा है जिस को प्रभावित करने की नियत से सहारा के द्वारा नए नए पैंतरे लगाए जा रहे हैं किसी प्रकार से संगठन को तोड़ा जाये।

Previous Post Next Post