अलविद महारानी एलिजाबेथ शाही परंपरा के साथ दी जा रही है अंतिम विदाई

नई दिल्ली(मानवी मीडिया)- ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की अंत्योष्टि आज राजकीय सम्मान के साथ किया जा रहा है। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का ताबूत विंडसर कैसल पहुंच चुका है। इससे पहले महारानी के ताबूत को वेस्टमिंस्टर हॉल से वेस्टमिंस्टर एबी तक ले जाने समय शाही परिवार के सदस्य मौजूद थे। महारानी के ताबूत को वेस्टमिंस्टर हॉल से निकाल कर वेस्टमिंस्टर एबी, एक गन कैरिएज में ले जाया गया। जिसे 142 नवल सेलर्स खींचा। किंग चार्ल्स और उनके बेटे भी ताबूत के साथ चलते दिखाई दिए।

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के ताबूत को लेकर स्पेशल कार विंडसर कैसल पहुंच चुकी है। महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का अंतिम संस्कार संपन्न हो चुका है। बता दें कि महारानी को किंग जॉर्ज पंचम मेमोरियल चैपल में उनके पति प्रिंस फिलिप के नजदीक दफनाया जाएगा। वेलिंगटन आर्क ले जाने के दौरान महारानी के ताबूत को आखिरी बार बकिंघम पैलेस के सामने से गुजरा

महारानी के अंतिम संस्कार के मौके पर ब्रिटिश प्रधानमंत्री लिज ट्रस जॅान ने बाइबल पुस्तक का वाचन भी किया। उन्होंने यीशु मसीह के अपने अनुयायियों को स्वर्ग में एक स्थान की प्रतिज्ञा से संबंधित एक संदर्भ का पाठ किया। बता दें कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का जन्म वेस्टमिंस्टर एबी में हुआ है।

इसी के साथ महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की अंत्योष्टि के मौके पर पूरे ब्रिटेन में दो मिनट का मौन रखा गया।

Previous Post Next Post