मुख्यमंत्री योगी ने विधान भवन परिसर में मानसून सत्र से पहले मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता की

 

लखनऊ: (मानवी मीडिया)मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने कहा कि उत्तर प्रदेश का विधान मण्डल देश के सभी राज्यों में सबसे बड़ा है। लोकतांत्रिक मूल्यों व आदर्शों पर विश्वास करने वाले सभी नागरिकों को विधान मण्डल की कार्यवाही का इन्तजार रहता है। सभी लोग बड़े विश्वास से विधान मण्डल में होने वाली चर्चाओं एवं कार्यक्रमांे को गौर से देखते हैं।

मुख्यमंत्री योगी आज यहां विधान भवन परिसर में विधान मण्डल के मानसून सत्र से पहले मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इस सत्र में सदस्यों को प्रदेश की 25 करोड़ जनता की आकांक्षाओं व अपेक्षाओं को सदन में रखकर आमजन की संवेदना के साथ स्वयं को जोड़ने का अवसर प्राप्त होगा।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर सदन में चर्चा करने के लिए तैयार है। सत्ता पक्ष के सदस्यों या विपक्ष के द्वारा उठाए जाने वाले किसी भी मुद्दे का सदन में सार्थक जवाब देने के लिए सरकार पूरी मजबूती के साथ खड़ी है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सदन के सभी सदस्य मानसून सत्र में भाग लेकर निर्विघ्न कार्यवाही सम्पादित करेंगे। जनता से जुड़े मुद्दों तथा प्रदेश के सर्वांगीण विकास को लेकर व्यापक चर्चा करेंगे।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि विधान मण्डल के वर्तमान सत्र में 22 सितम्बर, 2022 को महिलाओं के मुद्दों पर सारगर्भित चर्चा की जाएगी। डबल इंजन की सरकार द्वारा महिलाओं के सशक्तिकरण, सुरक्षा और स्वावलम्बन के लिए जो कदम उठाए गए हैं, आगे क्या अपेक्षाएं हैं, इन सभी मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश की 25 करोड़ की आबादी के विकास के लिए डबल इंजन की सरकार बिना भेदभाव के कार्य कर रही है। डबल इंजन की सरकार समाज के अन्तिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को शासन की योजनाओं का लाभ प्रदान कर रही है। सभी कार्यक्रमों को पूरी प्रतिबद्धता के साथ आगे बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। प्रदेश में अभाव व अराजकता के लिए कोई स्थान नहीं है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी  के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में देश व प्रदेश में कोरोना महामारी पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित किया गया है। प्रदेश में कोविड वैक्सीन की 38 करोड़ से अधिक डोज तथा लगभग 04 करोड़ प्रिकॉशन डोज दी जा चुकी है। प्रदेश सरकार द्वारा किसी भी आपदा से निपटने के लिए एस0डी0आर0एफ0 गठन किया गया है। एस0डी0एम0ए0 के माध्यम से बेहतर प्रशिक्षण प्रदान करते हुए आपदा में कम से कम जनधन की हानि हो, इसके लिए प्रदेश सरकार पूरी गम्भीरता के साथ कार्य कर रही है।

इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य,  ब्रजेश पाठक तथा वित्त एवं संसदीय कार्यमंत्री  सुरेश कुमार खन्ना उपस्थित थे।

Previous Post Next Post