विधायक डॉ. राजेश्वर सिंह ने किया क्षेत्र के 55 स्कूलों में 5-5 झूलों का अनावरण

लखनऊ (मानवी मीडिया)लखनऊ। सरोजनीनगर के सभी बच्चों के चेहरे पर मुस्कान देखना तथा उन्हें स्कूल जाने को लेकर अभिरूचि बढ़ाने के उद्देश्य से क्षेत्र में ना केवल स्कूलों का कायाकल्प हो रहा है बल्कि प्राइमरी स्कूलों में  झूले भी लगवाए जा रहे हैं। यह प्रयास है विधायक डॉ. राजेश्वर सिंह का। उनकी कोशिश है कि हर बच्चे को गुणवत्तापरक शिक्षा और खेलकूद से सभी संसाधन उपलब्ध हो। अपने इसी लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में सोमवार को डॉ. राजेश्वर सिंह ने क्षेत्र के 55 प्राइमरी स्कूलों को विभिन्न झूलों की सौगात दी। आने वाले समय में लगभग 265 स्कूलों को मिलेंगे झूले व अन्य सुविधाएं।

इस संबंध में विकास खंड सरोजनी नगर के प्राथमिक विद्यालय अलीनगर खुर्द में विशाल अनावरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यहां डॉ. राजेश्वर सिंह ने क्षेत्र के 55 प्राइमरी स्कूलों को 5-5 झूलों की सौगात दी। इन झूलों में स्लाइडर, सीसॉ, मंकी बार, मैरी गो राउंड और स्विंग श्रेणी के झूले शामिल है। इस दौरान डॉ. राजेश्वर सिंह ने बच्चों के साथ झूला झूला, बच्चों ने खुश होकर पटाखे जलाए।

कार्यक्रम के दौरान बच्चों ने मनमोहक सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। तत्पश्चात डॉ. राजेश्वर सिंह ने विद्यालय के मेधावी छात्रों को पुरस्कृत किया। साथ ही सभी बच्चों को पढ़ाई से संबंधित किट देकर सम्मानित किया।

डॉ. राजेश्वर सिंह ने कहा कि कोई भी राष्ट्र तभी सशक्त होगा जब उसकी मजबूत नींव हो। बच्चे देश की नींव हैं, गुणवत्तापरक शिक्षा व बेहतर स्वास्थ्य प्राप्त कर वे सशक्त राष्ट्र के निर्माण में अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों के चेहरे की मुस्कान मुझे नई ऊर्जा प्रदान करती है, उनके विकास से संबंधित हर सुविधा संसाधन उपलब्ध कराना मेरा कर्तव्य है।

 खंड विकास अधिकारी  पूजा सिंह ने कहा विधायक डॉक्टर राजेश्वर सिंह द्वारा, बच्चों के मानसिक विकास के लिए स्कूलों का कायाकल्प कर बेहतर शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। उनके शारीरिक विकास के लिए स्कूलों में खेलकूद की व्यवस्था बड़े पैमाने पर हो रही है , हर स्कूल में झूले लगवाए जा है। 

      खंड शिक्षा अधिकारी सरोजनी नगर रुद्र प्रताप सिंह ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद् के आंकलन में क्षेत्र के 50 प्रतिशत से ज्यादा बच्चे निपुण की श्रेणी में शामिल हैं, यह हम हमारे लिए गौरव का विषय है। सरोजनी नगर के विधायक माननीय राजेश्वर सिंह द्वारा बच्चों के शारीरिक विकास के लिए खेलो खेल मैदानों और झूलों की व्यवस्था वाकई बेसिक शिक्षा के लिए बहुत बड़ा सुधारात्मक कदम सिद्ध होगा।

              कार्यक्रम का संचालन कर रही विद्यालय परिवार की तरफ से रीना त्रिपाठी ने कहा कि बच्चों के साथ-साथ बेटियों के उत्थान को लेकर क्षेत्र में कार्य निरंतर जारी है। मा. राजेश्वर सिंह द्वारा बेटियों की शिक्षा के लिए हर संसाधन उपलब्ध करावाया जा रहा है। अब तक दस कॉलेजों में ग्यारह कंप्यूटर की डिजिटल लाइब्रेरी की स्थापना कराई गई है, अन्य में लगवाने का प्रयास जारी है। बेटियों को पढ़ने के लिए हर संसाधन उपलब्ध हो, इसके लिए सरोजनी नगर के विधायक डॉक्टर राजेश्वर सिंह का प्रयास अविस्मरणीय बेटियां डिजिटल लाइब्रेरी से विभिन्न यूनिवर्सिटी से जुड़ी हुई किताबें पढ़ सकती हैं। सरोजनी नगर के तीन बेसिक के विद्यालयों को गोद लेकर उनका निर्माण कार्य विधायक राजेश्वर सिंह जी द्वारा बहुत ही गुणवत्ता पूर्ण तरीके से कराया जा रहा है जो कि प्रदेश के आदर्श विद्यालय होंगे। रीना त्रिपाठी ने कहा जिन विद्यालयों में आज अनावरण किया गया वहां के 55 शिक्षक तथा हजारों बच्चे विधायक जी के हमेशा कृतज्ञ रहेंगे।

    झूला झूल कर बच्चे अपने बस्तों के बोझ को और पढ़ाई के तनाव को कुछ समय के लिए भूल जाते हैं उनके अंदर पॉजिटिव हार्मोन सक्रिय होते हैं और वह अपने व्यक्तित्व विकास में तथा भविष्य के निर्माण में अपना बेहतर योगदान अच्छे मन से पोस्ट शरीर से लगा सकते हैं

कार्यक्रम में रीना त्रिपाठी, प्रिसिंपल आभा शुक्ला, नसीम सेहर, सरिता यादव , राजेश सिंह चौहान, शंकरी सिंह,  ब्लॉक प्रमुख सुनील रावत व समाजसेवी वीरेंद्र कुमार पाल , पचपन विद्यालयों के शिक्षक, बड़ी संख्या में बच्चे तथा क्षेत्रवासी मौजूद रहे।

Previous Post Next Post