मैनपुरी में मतदान को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम, 17 हजार से अधिक जवानों की तैनाती


मैनपुरी (
मानवी मीडियामैनपुरी लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए जिले को 28 जोन और 163 सेक्टर में बांटा गया है। मतदान संपन्न कराने के लिए सेक्टर में सेक्टर मजिस्ट्रेट और जोन में जोनल मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। ये मतदान के दिन लगातार सक्रिय रहकर अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करेंगे। कहीं भी कोई कमी मिलने पर तत्काल सेक्टर मजिस्ट्रेट मतदेय स्थल पर पहुंचेंगे। वहीं शांतिपूर्वक मतदान कराने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इसके लिए करीब 17 हजार से अधिक पुलिसकर्मी सुरक्षा व्यवस्था के लिए तैनात किए हैं। 

मतदान के लिए विधानसभा क्षेत्र मैनपुरी को छह जोन और 40 सेक्टर में, विधानसभा क्षेत्र भोगांव को सात जोन और 39 सेक्टर में, विधानसभा किशनी क्षेत्र को छह जोन और 40 सेक्टर में और विधानसभा करहल क्षेत्र को नौ जोन और 44 सेक्टर में विभाजित किया गया है। इन सभी में सेक्टर और जोनल मजिस्ट्रेट अपने-अपने मतदेय स्थलों पर मतदान संपन्न कराने की जिम्मेदारी निभाएंगे। सुबह छह बजे मॉकपोल से लेकर मतदान शुरू कराने की रिपोर्ट सेक्टर मजिस्ट्रेट ही उच्चाधिकारियों को देंगे। इसके अलावा प्रत्येक दो घंटे पर मतदान प्रतिशत से भी अवगत कराते रहेंगे। अगर कहीं मतदान के दौरान ईवीएम खराब या बंद होने की सूचना मिलती है तो उसका निस्तारण भी सेक्टर मजिस्ट्रेट ही कराएंगे। 

सेक्टर में ही गुजारनी होगी रात 

चार दिसंबर को नवीन मंडी से पोलिंग पार्टियों की रवानगी के बाद सेक्टर मजिस्ट्रेटों को रिजर्व ईवीएम उपलब्ध कराई जाएंगी। ये ईवीएम सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी में ही रहेंगी। रात में भी सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने सेक्टर में ही रात्रि विश्राम करेंगे। इसके साथ ही सोमवार को मतदान के दिन सुबह पांच बजे से ही सक्रिय हो जाएंगे। 

चप्पे-चप्पे पर तैनात रहेगी पुलिस और पैरामिलिट्री

लोकसभा उपचुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराना पुलिस प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। भाजपा और सपा के बीच इस मुकाबले के बीच एसपी कमलेश दीक्षित की ओर से चुनाव को लेकर मजबूत किलेबंदी की गई है। एएसपी राजेश कुमार के साथ रणनीति के तहत संवेदनशील पोलिंग बूथ पर सुरक्षा की जिम्मेदारी बीएसएफ और सीआईएसएफ के जवानों को सौंपी गई है। इसके अलावा पोलिंग बूथ के आसपास पुलिस, पीएसी, होमगार्ड तैनात रहेंगे। 

एसपी ने बताया कि पुलिस, अर्धसैनिक बल लगातार गश्त कर जनता के बीच सुरक्षा का अहसास करा रहे हैं। पोलिंग बूथ आदि का निरीक्षण कर अधिकारी भी जनसंवाद कर रहे हैं। मतदान को लेकर बेहद चाकचौबंद व्यवस्था की गई है। सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, पीएसी के साथ ही होमगार्ड सुरक्षा व किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए हरदम तैयार रहेंगे। कड़ी सुरक्षा बंदोबस्त के बीच जनपद में होने वाले लोकसभा उपचुनाव शांतिपूर्ण व निष्पक्ष संपन्न कराएंगे। जिले भर में सुरक्षा के दृष्टिगत करीब 17 हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को लगाया गया है।

सुरक्षा में तैनात रहेगी यह फोर्स

एएसपी राजेश कुमार ने बताया कि लोकसभा उपचुनाव को लेकर पांच अपर पुलिस अधीक्षक, 14 सीओ, 27 प्रभारी निरीक्षक, 693 उप-निरीक्षक, 7194 मुख्य आरक्षी/आरक्षी, आरक्षी महिला 300, 4084 होमगार्ड तैनात रहेंगे। इसके अलावा 12 कंपनी सीआईएसएफ, बीएसफ 10 कंपनी, एसएसबी 08 कंपनी, आईटीबीपी 05 कंपनी, सीआरपीएफ 02 कंपनी, पीएसी 18 कंपनी 02 प्लाटून उपचुनाव की सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालेंगे।
Previous Post Next Post