निपुण भारत मिशन के अन्तर्गत प्रदेश को निपुण बनाये जाने के लक्ष्य को करे पूरा

लखनऊ (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश  के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  संदीप सिंह ने कहा कि निपुण भारत मिशन के अन्तर्गत प्रदेश को निपुण बनाये जाने के जो लक्ष्य दिये गये है उसे पूरा करने के लिए सभी लोग कार्य करे। उत्तर प्रदेश को निपुण प्रदेश बनाना है। सभी बेसिक शिक्षा अधिकारी अपने जनपद में निपुण भारत मिशन को पूरी गंभीरता से लेते हुये कार्य करे। कार्यशाला में निपुण भारत मिशन के अन्तर्गत जो भी जानकारी प्रदान की गयी है। उसके अनुसार सभी लोग अपने जनपद में कार्य करे।

 संदीप सिंह ने आज इन्दिरा गाँधी प्रतिष्ठान में निपुण भारत मिशन की दो दिवसीय कार्यशाला को संबोधित करते हुये कहा कि कोई भी कार्य निश्चत करके किया जायेगा तो अवश्य पूरा होगा। आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत प्रदेश में बेसिक शिक्षा के अन्तर्गत संचालित स्कूलों में बेहतर कार्य हुआ है जिसकी प्रशंसा पूरे देश में की जा रही है उन्होने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी हमेशा बच्चों को बेहतर शिक्षा मिले इसके लिए निरन्तर कार्य कर रहे है। 

        प्रमुख सचिव बेसिक  दीपक कुमार ने कहा कि इस 02 दिवसीय कार्यशाला में आप लोगों के लिये मोटिवेशनलटेक्नोलॉजीग्रुप लर्निंग एवं अकादमिक डिजाइन्स सेशन्स को सम्मिलित किया गया हैजिनका लाभ आप प्राप्त करें और यहाँ से जाने के बाद अपने जनपद के लिये एक माइकोप्लान अवश्य बनायें। उन्होने अपेक्षा कि जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी के मार्गनिर्देशन में समस्त हितधारकों को जोड़ते हुये निपुण भारत मिशन को एक जनआन्दोलन का स्वरूप प्रदान करें। उन्होने कहा कि निपुण भारत मिशन के कार्यों की समीक्षा की जायेगी कि किन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों एवं एस०आर०जी० टीम द्वारा बेहतर प्रदर्शन किया जा रहा है। बेहतर प्रदर्शन करने वाले अधिकारियों एवं एस०आर०जी० को मुख्यमंत्री  एवं  मंत्री की ओर से पुरस्कृत किया जायेगा। बेहतर प्रदर्शन नहीं करने वाले अधिकारियों एवं एस०आर०जी० का उत्तरदायित्व निर्धारण भी किया जायेगा। उन्होने कहा कि  विभाग द्वारा प्रत्येक त्रैमास पर आप सभी के क्षमता संवर्द्धन हेतु कार्यशालायें आयोजित की जायेंगी। नवचयनित अधिकारियों के क्षमता संवर्द्धन एवं मोटीवेशन के लिये यह विभाग द्वारा एक निवेश है।

विश्व विख्यात मोटिवेशन स्पीकर  शिवखेड़ा ने कहा कि शिक्षक ही समाज को बदल सकता है। किसी भी समाज और देश की तकदीर और तस्वीर को बदलने में शिक्षा और शिक्षक ही महत्वपूर्ण भूमिका होती है। मूल आधारित शिक्षा और जीवन से चरित्र निर्माण होता है। सकारात्मक सोच विजय दिलाती है। आम इंसान के पास खोने के लिए कुछ नहीं होता है जबकि पाने के लिए सारा संसार होता है। आपकी सक्रियता ही आपका परिचय पत्र अर्थात प्रमाण पत्र है।

        इस अवसर पर महानिदेशक बेसिक शिक्षा  विजय किरन आनन्द, संयुक्त निदेशक बेसिक  गणेश शंकर, समस्त ए०डी० बेसिक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं एस०आर०जी० व अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Previous Post Next Post