अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्र में वृहद रोजगार मेला

लखनऊ: (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के मण्डलीय जनपदों के अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्र में एक माह के अन्दर वृहद रोजगार मेला आयोजित किये जाने की कार्ययोजना तैयार की जाय। इसके साथ ही बार्डर एरिया डेवलपमेन्ट प्रोग्राम के अन्तर्गत आने वाले प्रदेश के आठ जनपदों के 22 विकास खण्डों में रोजगार मेलों के आयोजन एक माह के अन्दर कराया जाय। यह निर्देश प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशक, श्री हरिकेश चौरसिया ने आज निदेशालय स्थित सभागार में सेवायोजन विभाग की समीक्षा बैठक के दौरान दिए।

 प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशक द्वारा आज ली गयी समीक्षा बैठक में सेवायोजन पोर्टल एवं सेवामित्र व्यवस्था से अवगत कराते हुए 01 अप्रैल, 2022 से 31 अगस्त, 2022 तक किए गये कार्यो की विस्तृत समीक्षा की गयी। बैठक में बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष में 31 अगस्त, 2022 तक रोजगार मेलों के माध्यम से 93 हजार बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान किये गये तथा कॅरियर कॉउन्सिलिंग कार्यक्रमों के माध्यम से 01 लाख 42 हजार अभ्यर्थियों को कॅरियर मार्गदर्शन किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि सेवामित्र व्यवस्था के अन्तर्गत सेवामित्र पोर्टल पर 26 हजार से अधिक कुशल कामगारों का पंजीकरण कराया गया है।

समीक्षा बैठक में प्रदेश सरकार के प्राथमिकता आधारित विभागीय कार्यक्रमों- रोजगार मेला, कॅरियर कॉउन्सिलिंग व सेवामित्र व्यवस्था की प्रगति तथा आगामी कार्ययोजना पर विस्तार से चर्चा की गयी।

निदेशक, प्रशिक्षण एवं सेवायोजन, उत्तर प्रदेश की अध्यक्षता में आहूत समीक्षा बैठक में सेवायोजन विभाग से सम्बन्धित निदेशालय एवं क्षेत्र के अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

Previous Post Next Post