अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय जाली नोट की तस्करी करने वाले गिरोह का 1 सदस्य गिरफ्तार

लखनऊ (मानवी मीडिया), उत्तर प्रदेश को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय जाली मुद्रा की तस्करी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को भारतीय जाली मुद्रा फ्50 हजार रूपये) के साथ गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

*गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण

1- गुड्डू भारतीया उर्फ संजय पुत्र श्री भुवर भारतीया निवासी ग्राम कुखुढ़ी थाना कौंधियारा जनपद प्रयागराज।

*बरामदगीः*

1- 50 हजार रूपये भारतीय जाली मुद्रा (रूपये 500/-के 100 जाली नोट) 

2- 01 अदद आधार कार्ड की छायाप्रति।

3- 01 अदद एण्ड्राएड मोबाइल फोन वीवो कम्पनी

4- 02 अदद ट्रेन टिकट (छिवकी से हावड़ा दिनांक 01.09.2022 व हावड़ा से न्यू फरक्का दि0 

        02.09.2022)

5- नगद रू0 830/-

*गिरफ्तारी का स्थान एवं समय:

दिनांक-04.09.2022, समय लगभग-14.30 बजे लीडर रोड पर कूड़ाखाना के पास थाना शाहगंज जनपद प्रयागराज।

             एस0टीएफ0 उत्तर प्रदेश को सूचना प्राप्त हो रही थी कि भारत-बांग्लादेश के सीमावर्ती क्षेत्रों से भारतीय जाली मुद्रा का संचरण हो रहा है तथा वहॉ से जाली मुद्रा को भारत के विभिन्न क्षेत्रों में भेजा जा रहा है। इस सम्बन्ध मंे एस0टी0एफ0 की विभिन्न इकाईयों/टीमों को अभिसूचना संकलन एवं ठोस कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था। उक्त निर्देश के क्रम में श्री नवेन्दु कुमार, पुलिस उपाधीक्षक, एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, प्रयागराज के पर्यवेक्षण मंे फील्ड इकाई, प्रयागराज टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी

               दिनांक 04-09-2022 को एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, प्रयागराज के उ0नि0 श्री वेद प्रकाश पाण्डेय, आरक्षी अजय सिंह यादव, आरक्षी रोहित सिंह, आरक्षी पुनीत कुमार पाण्डेय, आरक्षी अजय कुमार यादव, व आरक्षी चालक अखण्ड प्रताप पाण्डेय की टीम प्रयागराज नगर क्षेत्र में आपराधिक अभिसूचना संकलन में व्यस्त थी कि मुखबिर खास के माध्यम से सूचना मिली कि भारतीय जाली मुद्रा के साथ एक व्यक्ति रेलवे स्टेशन से उतरकर रेलवे लाइन के किनारे से लीडर रोड की तरफ पैदल जा रहा है। इस सूचना पर विश्वास करके मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान पर पहुॅचकर समय लगभग 14.30 बजे दबिश देकर आवश्यक बल प्रयोग कर गुड्डू भारतीया को गिरफ्तार कर लिया गया जिससे उपरोक्त बरामदगी हुई।

              अभियुक्त गुड्डू भारतीया पुत्र भुवर भारतीया नेे कड़ाई से पूॅछताछ करने पर बताया कि मैं ग्राम कुखुढ़ी थाना कौंधियारा जनपद प्रयागराज का मूल निवासी हूॅ। वर्ष 2010 में पारिवारिक जमीन सम्बन्धी विवाद में मारपीट की घटना घटित हुयी थी, जिसके सम्बन्ध में थाना कौंधियारा जनपद प्रयागराज में मेरे विरूद्ध धारा 307 भादवि का अभियोग पंजीकृत है। उक्त अभियोग में मै पूर्व में जेल भी गया था। करीब 03-04 माह पूर्व मुकदमें की पैरवी/तारीख में मै कचहरी प्रयागराज आया था, जहॉ मेरी मुलाकात दीपक मण्डल से हुई। वह भी अपने मुकदमे की पैरवी के लिए कचहरी प्रयागराज आया था। दीपक मण्डल ने मुझे जाली नोट के कारोबार के सम्बन्ध में बताया कि इसमे बहुत फायदा है इसी धन्धे में तुम भी आ जाओ और इस प्रकार हम दोनो ने अपने मोबाइल नम्बर एक दूसरे को दे दिया। मै भी लालच में आकर दीपक मण्डल से वार्ता कर दिनांक 24-06-2022 को छिवकी स्टेशन से चम्बल एक्सप्रेस पकड़कर हावड़ा जंक्शन होते हुए न्यू फरक्का गया था, जहॉ दीपक मण्डल मुझसे रू0 25 हजार असली नोट लेकर बदले में मुझे 50,000/- रूपये के नकली नोट (2000 रूपये के 25 नकली नोट) दिया। दीपक मण्डल द्वारा दिये गये 2000 की नकली नोट को मैं अपने ही इलाके में घरेलू व कृषि सामान आदि खरीद कर चला दिया। पूर्व के लाये हुए नकली नोट समाप्त हो जाने के बाद पुनः नकली नोट लाने हेतु दिनांक 01-09-2022 को छिवकी रेलवे स्टेशन से हावड़ा तथा वहॉ से न्यू फरक्का गया, जहॉ मैं, दीपक मण्डल पुत्र काशीनाथ मण्डल निवासी जयेनपुर थाना वैष्णवनगर जिला मालदा पश्चिम बंगाल को रू0 25,000/- हजार रूपये असली नोट दिया एवं उसके बदले में उससे 50,000/- रूपये (500-500 के 100 नकली नोट) नकली नोट लिया। जिसे लेकर आज मै अपने घर जा रहा था। 

             गिरफ्तार अभियुक्त के विरूद्ध थाना शाहगंज, जनपद प्रयागराज में मु0अ0सं0 112/2022 धारा 489बी/489सी भा0द0वि0 के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया। अग्रिम विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

Previous Post Next Post