पिता ने ढाई साल की बेटी का ब्लेड से गला रेत कर की हत्या


हरिद्वार (मानवी मीडिया
दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम देते हुए एक पिता ने अपनी ढाई वर्षीय पुत्री की ब्लेड से गला रेतकर हत्या कर दी, जिसके बाद खुद को भी ब्लेड से वार कर बुरी तरह जख्मी कर लिया। खून से लथपथ रहे पिता का पता नहीं चल सका है, जिसकी तलाश में सिडकुल पुलिस की टीमें क्षेत्र को खंगालने में जुटी है।

लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली महिला से विवाद के बाद आरोपी के द्वारा मासूम बेटी की हत्या कर देने की बात निकलकर सामने आ रही है। डीआईजी-एसएसपी डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने घटनास्थल का निरीक्षण कर पिता को खोज निकालने के निर्देश अधीनस्थों को दिए हैं।

मंगलवार सुबह क्षेत्र के गांव खाला टीलरा-हजाराग्रंट मुख्य मार्ग पर गन्ने के खेत में करीब ढाई वर्षीय मासूम बालिका का शव मिलने से सनसनी फैल गई। खेत स्वामी की सूचना पर सिडकुल पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। डीआईजी ने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया कि ब्लेड से गला रेतकर मासूम की हत्या की गई है।

शव से चंद कदम की दूरी पर पुलिस को खून से सना एक ब्लेड, एक मोबाइल फोन, जूते एवं खून से सनी एक टीशर्ट बरामद हुई। प्रारंभिक पड़ताल में सामने आया कि सोमवार को दोपहर के वक्त मासूम के साथ एक व्यक्ति को देखा गया था। कुछ घंटों बाद फिर से उस व्यक्ति को खेत से चंद कदम की दूरी पर एक बाग के बाहर खून से लथपथ बैठे हुए देखा था, जिसके शरीर पर भी कई निशान थे।

इधर, सिडकुल पुलिस एवं सीआईयू ने जब मोबाइल फोन को खंगाला तब हकीकत सामने आई। सामने आया कि मोबाइल फोन कुलदीप पुत्र जगदीश निवासी टीकरी बागपत यूपी का है, जो पेशे से ट्रक ड्राइवर बताया जा रहा है। वह पिछले चार वर्ष से बिजनौर की रहने वाली शबाना नाम की महिला के साथ सिडकुल क्षेत्र में लिव इन रिलेशनशिप में रहा था लेकिन उन्होंने विधिवत तौर पर शादी नहीं की थी।

दोनों की एक बेटी पैदा हुई थी। दोनों के बीच कुछ दिन पूर्व विवाद हुआ था, जिसके बाद महिला बिजनौर चली गई थी। कुलदीप बेटी को लेकर संभवत टीकरी बागपत चला था, जहां से वह दो दिन पूर्व ही लौटा था। सीओ सदर बहादुर सिंह चौहान ने बतााया कि प्रथम द़ृष्टया यही सामने आया कि पिता ने ही बेटी की हत्या की है, उसकी तलाश कर रहे हैं।

उसने खूद को भी ब्लेड से वार कर घायल किया हुआ है, यह भी अब तक की तफ्तीश में सामने आया है। महिला से भी संपर्क हो गया है, वह यहां पहुंच रही है, जिससे पूछताछ के बाद संभवत बेटी की हत्या कर देने की वजह सामने आ सकेगी।

धर्मस्थल में ठहरे थे पिता-पुत्री
दो दिन पूर्व पिता-पुत्री ने क्षेत्र के ही एक धर्मस्थल में रात गुजारी थी। पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है। रात धर्मस्थल में गुजारने के बाद पिता-पुत्र निकल गए थे, जिसके बाद वह करीब दो से तीन किलोमीटर दूर खेत के पास जाकर ठहर गए। पुलिस के अनुसार इसी दौरान पिता ने मुख्य सड़क से करीब सौ मीटर अंदर खेत में ले जाकर बेटी को मौत की नींद सुला दिया।

नशे में प्रतीत हो रहा था आरोपी
पिता-पुत्री को एक दिन पूर्व देखने वाले लोगों ने पुलिस को बताया कि आरोपी नशे में प्रतीत हो रहा था। खून से लथपथ दिखाई दिए आरोपी को उन्होंने जब वहां से फटकार कर भगा दिया, तब वह नशे में ही था। हालांकि मासूम के साथ एक व्यक्ति के मौजूद होने को लेकर किसी का दिमाग नहीं कौंधा, वरना संभवत मासूम की जान बच सकती थी।

तीन ठिकाने बदले
सिडकुल क्षेत्र में किराए पर रहे कुलदीप और महिला ने तीन ठिकाने बदले थे। चोरी से जुड़ा एक मामला भी उनके साथ हुआ था, जिसकी छानबीन में भी अब पुलिस जुटी है। दोनों पहले रोशनाबाद में रहे, जिसके बाद उन्होंने एक स्थान फिर बदला। मौजूदा समय में वह रावली महदूद में रह रहे थे।

Previous Post Next Post