किसानों की कृषि भूमि की सिंचाई को बढ़ाने के लिए ऊर्जा विभाग कर रहा युद्ध स्तर पर प्रयास --ऊर्जा मंत्री ए0के0 शर्मा

लखनऊ (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश प्रदेश सरकार किसानों को किसी भी प्रकार के संकट से बचाने तथा उनकी आर्थिक स्थिति को मजबूत करने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है प्रदेश में कम बारिश के कारण किसानों की फसल को नुकसान से बचाने के लिए तथा उनकी कृषि भूमि की सिंचाई क्षमता को बढ़ाने के लिए ऊर्जा विभाग ने युद्ध स्तर पर प्रयास कर 01अप्रैल से 31अगस्त, 2022 तक विगत 05 माह में प्रदेश भर में किसानों के 18,678 निजी नलकूपों को कनेक्शन देकर संचालित कर दिया है। इसमें पूर्वांचल के तहत किसानों को 4,893, मध्यांचल में 5,857, दक्षिणांचल में 3,804 तथा पश्चिमांचल में 4,124 नलकूप कनेक्शन दिए हैं।

         नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री  ए0के0 शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि किसानों को निजी नलकूप कनेक्शन लेने में कोई परेशानी न हो, इसका विशेष ध्यान रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं। साथ ही नलकूप से संबंधित सामग्री की भी कमी न हो, इस पर भी पूरी सजगता बरतते हुए निगरानी करने के निर्देश दिए गए है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए कटौती मुक्त निर्बाध विद्युत आपूर्ति दी जा रही है।

 ए0 के0 शर्मा ने कहा कि अब तक जितने भी किसान अपने निजी नलकूप कनेक्शन के लिए भुगतान कर दिए हैं। प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र ही उनको कनेक्शन दिया जाए जाएगा और जो भी समस्याएं उनके निजी नलकूप के कनेक्शन में आ रही होंगी। उसे शीघ्र ही दूर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि   प्रदेश सरकार किसानों के हितों के प्रति अत्यंत संवेदनशील है और संकट के समय उन्हें हर संभव मदद की जा रही।


Previous Post Next Post