मुख्यमंत्री योगी के निर्देश पर खनन विभाग एलर्ट -डा०रोशन जैकब


लखनऊ: (
मानवी मीडिया)खनन पट्टा क्षेत्र से ही उपखनिज लदे वाहनों में बिना परिवहन प्रपत्र एवं ओवर लोडिंग को स्रोत पर ही रोकने हेतु खनन निदेशालय की जाँच टीम  जिसमें खनन निदेशक डा०रोशन जैकब भी थी,के द्वारा आज  03.06.2022 को जनपद हमीरपुर की तहसील सरीला के ग्राम चंदवारी घुरौली के तीन खनन पट्टा क्षेत्रों खण्ड संख्या- 26 / 3 26 / 6 तथा 26 / 8 का औचक निरीक्षण किया गया। इन क्षेत्रों में वैध परिवहन प्रपत्र के साथ मानक के अनुरूप परिवहन होते पाया गया। क्षेत्रों की जाँच में यह भी पाया गया कि खण्ड संख्या- 26/3 एवं 28/6 के पट्टेधारकों द्वारा तौल मशीनों पर कैमरे को सही ढंग से नहीं लगाया गया है, जिससे उपखनिज लदे वाहनों की नम्बर प्लेट तथा उसमें लदे उपखनिज की मात्रा का सही आंकलन नहीं हो सकता। निदेशालय के कमाण्ड सेन्टर से दिनांक 01 मई, 2022 से 01 जून, 2022 के मध्य खण्ड संख्या- 26 / 6 से 265 वाहन तथा 26/8 से 245 वाहन बिना परिवहन प्रपत्र (ई- एम0एम0 - 11 ) लिये तौल मशीन से गुजरने की सूचना प्राप्त हुई। इस सम्बन्ध में पट्टेधारक / प्रतिनिधि से पूँछतांछ की गयी, जिसके सम्बन्ध में उनके द्वारा सही सूचना उपलब्ध नहीं करायी गयी।

 इस सम्बन्ध में ज्येष्ठ खान अधिकारी हमीरपुर को निर्देशित किया गया है कि ऐसे सभी प्रकरणों में अपने स्तर से जाँच कर पायी गयी, कमियों के आधार पर रायल्टी का छ: गुना वसूली कराना सुनिश्चित करें और इस शिथिलता के कारण ज्येष्ठ खनन अधिकारी हमीरपुर को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गयी  है,और जिला प्रशासन हमीरपुर को निर्देशित किया गया है कि कि वह अवैध परिवहन पर प्रभावी नियंत्रण हेतु आटोमेटेड चेक गेट तत्काल स्थापित कराना सुनिश्चित करें। साथ ही साथ जनपद जालौन में भी उपखनिज लदे वाहनों की जाँच की गयी ,जिसमें अधिकांश वाहन मानक के अनुसार परिवहन करते हुए पाये गये, परन्तु जनपद झाँसी से आ रहे कुछ गिट्टी के वाहन ई- एम0एम0-11 में अनुमन्य मात्रा से अधिक मात्रा में परिवहन करते हुए देखे गये। ज्येष्ठ खान अधिकारी, झाँसी को निर्देशित किया गया है कि ऐसे समस्त परिवहन कर रहे वाहनों की सघन जाँच कर ऐसे सभी वाहनों पर कड़ी कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

आपको बताते चलें कि खनन विभाग द्वारा लगातार की रही जांघों और औचक निरीक्षण से खनन व्यवस्था बहुत कुछ पटरी पर आयी है। 19मई  से लगातार चलाये जा रहे जांच अभियान में प्रदेश में पूरब से पश्चिम तक और बुन्देलखण्ड के जिलों में जहां बहुतायत में खनन व परिवहन होता है , औचक निरीक्षण किये गये है और लखनऊ मुख्यालय की टीमों द्वारा भी निरीक्षण किया जा रहा है।यही नहीं प्रदेश के अन्दर अन्य प्रदेशों से आने वाले खनन परिवहन करने वालों पर भी खनन विभाग का सख्त पहरा लगा हुआ है, और इस अभियान व कार्यवाही के बहुत सार्थक व सकारात्मक परिणाम निखर कर सामने आये हैं

बकौल खनन विभाग ,निरीक्षण के दौरान अधिकांशतः नियमों के पालन करते हुए हालात परिलक्षित हो रहे हैं।

Previous Post Next Post