बिजली बिल भरने में रहें सावधान! फर्जी मैसेज भेजकर ठगी


लखनऊ (
मानवी मीडिया मध्यांचल निगम ने बिजली उपभोक्ताओं से फर्जी मैसेज और कॉल से सर्तक रहने की अपील की है। निगम की जनसंपर्क अधिकारी शालिनी यादव ने बताया कि बिजली उपभोक्ता लेसा के काउंटर, ई-सुविधा का काउंटर, सीएससी सेंटर, एसएचजी, बिलिंग एजेंट और विद्युत सखी के माध्यम से बिजली बिल जमा कर सकते हैं। इसके अलावा यूपी पावर कॉरपोरेशन की वेबसाइट www.upenergy.in पर उपलब्ध नेट बैकिंग, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, भीम ऐप, पेटीएम के माध्यम से भी उपभोक्ता सीधे भुगतान कर सकते है।

शालिनी यादव कहा कि यदि उपभोक्ता से किसी अन्य माध्यम से बिजली बिल का भुगतान करने को कहा जाए तो इसकी सूचना 1912 पर दें। विभाग द्वारा कोई अधिकारी, कर्मचारी, एसएमएस द्वारा लिंक भेज कर, मोबाइल नम्बर से लिंक भेजने अथवा स्क्रीन शेयर करने के लिए अधिकृत नहीं है। जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि पिछले दिनों कुछ व्यक्तियों द्वारा विभिन्न मोबाइल नम्बरों से फर्जी तरीके से भेजे जा रहे हैं। इसके तहत उपभोक्ताओं से अनाधिकृत व्यक्तियों द्वारा फोन पर अवगत कराया जाता है कि आप का पेमेंट अपडेट नहीं है। 

अपडेट करने के लिए प्ले स्टोर से एक ऐप डाउनलोड कराया जाता है, इसके बाद ऐप को ओपन करने पर आईपी एड्रेस टाइप का 12 डिजिट का ऑटो जनरेटेड कोड मांगा जाता है। उस कोड को बताते ही मोबाइल का एसेस अज्ञात व्यक्ति के पास चला जाता है, जिसके बाद उस व्यक्ति द्वारा गूगल पे या अन्य माध्यम से एकाउंट से पेमेंट अपने खाते में कर लिया जाता है। उन्होंने बताया कि अभी 9919700251, 9450366033, 9412870456 से मैसेज आ रहे हैं।


Previous Post Next Post