एसपीजीआई में पुनः सीमित/ प्रतिबंधित ओ0 पी0 डी0 सेवाये चलाई जायेंगी।


लखनऊ (मानवी मीडिया) कोरोना के बढ़ते संक्रमण से निपटने के लिए संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान के बाहय रोगी विभाग में पुनः सीमित/ प्रतिबंधित ओ0 पी0 डी0 सेवाये चलाई जायेंगी। 

1. बाह्य रोगी विभाग में परामर्श के लिए एवं वार्ड में भर्ती के लिये आने वाले रोगी और उसके एक परिजन की कोविड (आर टी पी सी आर / ट्रूनैट ) रिपोर्ट नेगेटिव होनी चाहिए, जो ओपीडी /वार्ड में प्रवेश के 72 घंटों के अंदर की ही होनी चाहिए।

2. ओ0 पी0 डी0 में प्रति विभाग 20 नए रोगी और 30 पुराने मरीज देखे जाएंगे।

3. पूर्व की भांति नए और पुराने रोगियों के लिए ई ओपीडी द्वारा चिकित्सकीय परामर्श को प्राथमिकता दी जाएगी।

4. जिन रोगियों को ओपीडी में परामर्श की तिथि मिली हुई है, उन्हें भी ई ओपीडी द्वारा परामर्श लेने की सलाह दी जाती है। 

5. ई ओ पी डी के  चिकित्सक से परामर्श के पश्चात चिकित्सक द्वारा रोग की गंभीरता को देखते हुए आवश्यक होने पर ही रोगियों को ओपीडी में परामर्श के लिए बुलाया जाएगा।

6. रोगियों, उनके सहायकों व रोगियों  के संपर्क में आने वाले स्वास्थ्य कर्मियों को परस्पर दूरी बनाए रखना, मास्क का प्रयोग और नियमित हाथ धोते रहना जैसे प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य होगा। 

7. ओ0 पी0 डी0, लैब और वार्ड में रोगी के साथ एक ही परिजन को प्रवेश की अनुमति होगी। 

यह व्यवस्था 13 जनवरी से अनिवार्य रूप से लागू की जा रही हैं।

Previous Post Next Post