आईएएस अमित खरे बने प्रधानमंत्री मोदी के नए सलाहकार, दो वर्ष अनुबंध के आधार पर हुई नियुक्ति


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): पूर्व सूचना प्रसारण सचिव अमित खरे को प्रधानमंत्री का नया सलाहकार नियुक्त किया गया है। मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति ने 1985 बैच और झारखंड कैडर के सेवानिवृत्त भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी खरे को दो वर्ष के लिए अनुबंध के आधार पर प्रधानमंत्री कार्यालय में प्रधानमंत्री का सलाहकार नियुक्त किया है। खरे का पद एवं वेतन आदि सुविधाएं केन्द्र सरकार में सचिव के पद के बराबर होंगी। 

आपको बता दें कि इससे पहले अमित खरे उच्च शिक्षा विभाग में सचिव पद से रिटायर हुए थे। उससे पहले वो एचआरडी मंत्रालय और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में भी रहे थे। अमित खरे ही वह आईएएस अधिकारी हैं जिन्होंने चारा घोटाले का पर्दाफाश किया था। चाईबासा के उपायुक्त पद पर रहते हुए उन्होंने चारा घोटाला में पहली एफआईआर दर्ज कराई थी। हाई प्रोफाइल केस था जिसमें बिहार के कई नेता और अधिकारी जेल गए और उन्हें सजा मिली। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव भी इसी मामले में सजा काट रहे हैं। फिलहाल वह जेल से बेल पर बाहर हैं। इसी वजह से अमित खरे को कुछ दिनों के लिए तत्कालीन शासन के दौरान कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ा। बावजूद इसके वह अपने कर्तव्य पथ पर अडिग रहें। इनकी पत्नी भी वर्तमान में केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय में अपर सचिव पद पर तैनात हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र