सरदार पटेल एव आचार्य नरेंददेव वास्तविक भारत रत्न - यशवंत सिंह


जहानागंज /आज़मगढ़(मानवी मीडिया )।लोकतन्त्र सेनानी कल्याण समिति के संरक्षक विधानपरिषद सदस्य यशवंत सिंह ने कहा है कि वरिष्ठतम स्वतन्त्रता सेनानी लौहपुरुष सरदार पटेल और आचार्य नरेंददेव वास्तविक भारत रत्न हैं। इन दोनों मनीषियों को भी भारत रत्न मिला होता तो भारत रत्न का सम्मान बढ़ा होता। इस सच से अवगत होने के बाद भी कांग्रेस नेतृत्व वाली भारत सरकार ने यह निर्णय नहीं लिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्रदेव मोदी और गृहमन्त्री अमितशाह ने इसे समझा और  लौहपुरुष को भारत रत्न से विभूषित किया। विश्व की सर्वाधिक ऊंची मूर्ति के रूप में लौहपुरुष की स्मृति को स्थापित किया। इसके लिए मोदी और शाह की जितनी भी तारीफ करें, कम है।

रविवार को चन्द्रशेखर ट्रस्ट, जहानागंज में स्थित परिसर में आयोजित लौहपुरुष सरदार पटेल, आचार्य नरेंददेव जयंती समारोह में लोकतन्त्र सेनानी कल्याण समिति के संरक्षक विधानपरिषद सदस्य यशवंत सिंह ने कहा कि जिन महापुरुषों को भारत रत्न से विभूषित किया गया है, मैं उनके खिलाफ नहीं हूँ लेकिन यह तकलीफ हमेशा सालती थी कि बिखरे भारत को एक सूत्र में जोड़ने वाले सरदार पटेल को    भारत रत्न क्यों नहीं, नैतिकता के पर्याय आचार्य नरेंददेव को भारत रत्न क्यों नहीं, आपातकाल को चुनौती देने वाले प्रथम समाजवादी प्रधानमंत्री राष्ट्रपुरुष चन्द्रशेखर को भारत रत्न क्यों नहीं? लौहपुरुष सरदार पटेल और आचार्य नरेंद्रदेव के चित्र पर श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी को लौहपुरुष और आचार्य नरेंददेव की जीवनी को पढ़ना चाहिए और इन दोनों मनीषियों के दिखाए पथ पर चलने का संकल्प लेना चाहिए। यही इन दोनों मनीषियों को यही सच्ची श्रद्धांजलि है।

जयंती समारोह में शामिल होने से पहले लोकतन्त्र सेनानी कल्याण समिति के संरक्षक विधानपरिषद सदस्य यशवंत सिंह ने राष्ट्रपुरुष चन्द्रशेखर की मूर्ति पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया और कहा कि साथियों, दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर जाता है। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि लौहपुरुष को भारत रत्न से विभूषित करने वाले मोदी, गरीबों को सम्मान देने वाले मोदी, विश्व में भारत का मान बढ़ाने वाले मोदी फिर से प्रधानमन्त्री बनें तो यूपी में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विरोध करने वालों का उनके उनके क्षेत्र में जमानत जब्त करा दें। इस अवसर पर  उदयशंकर चौरसिया, सूरज सिंह, दुर्गविजय यादव, राजवीर सिंह,सूबेदार यादव, बबलू मिश्र, चंचल चौबे, अमित प्रजापति, प्रतापनारायण सिंह,विजय उपाध्याय, अशोक यादव,और ऐजाज उर्फ लम्बू आदि ने भी लौहपुरुष सरदार पटेल और आचार्य नरेंद्रदेव को श्रद्धांजलि अर्पित की।

Previous Post Next Post