पाकिस्तान में मोहम्मद अली जिन्ना की प्रतिमा को बम से उड़ाया,


इस्लामाबाद (मानवी मीडिया): पाकिस्तान के ग्वादर में मुहम्मद अली जिन्ना की एक मूर्ति को रविवार को एक बम हमले में नष्ट कर दिया गया। पाकिस्तान में प्रतिबंधित बलूच लिबरेशन फ्रंट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। आपको बता दें कि यह शहर पाकिस्तान के साथ-साथ चीन के लिए भी महत्वपूर्ण है। जिन्ना की यह प्रतिमा इस साल की शुरुआत में मरीन ड्राइव पर लगाई गई थी, जिसे सुरक्षित क्षेत्र माना जाता है

डॉन ने आधिकारिक सूत्रों के हवाले से बताया कि प्रतिमा के नीचे एक विस्फोटक उपकरण रखकर उसे उड़ा दिया गया। खबर के अनुसार विस्फोट में प्रतिमा पूरी तरह से नष्ट हो गई। बीबीसी उर्दू की खबर के अनुसार प्रतिबंधित संगठन बलोच रिपब्लिकन आर्मी के प्रवक्ता बबगर बलोच ने ट्विटर पर विस्फोट की जिम्मेदारी ली है। बीबीसी उर्दू ने ग्वादर के उपायुक्त मेजर (सेवानिवृत्त) अब्दुल कबीर खान के हवाले से कहा कि मामले की उच्चतम स्तरीय जांच की जा रही है।

उन्होंने कहा कि विस्फोटक लगाकर जिन्ना की प्रतिमा को नष्ट करने वाले पर्यटकों के रूप में क्षेत्र में घुसे थे। उनके मुताबिक अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है, लेकिन एक-दो दिन में जांच पूरी कर ली जाएगी। उन्होंने कहा, 'हम मामले को सभी कोणों से देख रहे हैं और जल्द ही दोषियों को पकड़ लिया जाएगा।' जिन्ना 1913 से लेकर 14 अगस्त 1947 को पाकिस्तान की स्थापना तक ऑल इंडिया मुस्लिम लीग के नेता रहे। इसके बाद 1948 में निधन होने तक वह पाकिस्तान के पहले गवर्नर जनरल रहे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र