उत्तराखंड सियासी में बड़ा संकट, तीरथ सिंह रावत ने मुख्यमंत्री पद से की इस्तीफे पेशकश की


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): उत्तराखंड में सीएम तीरथ सिंह रावत को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि सीएम तीरथ सिंह रावत ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र दिया है, जिसमें उन्होंने इस्तीफा देने की बात कही है क्यूंकि वहां पर सैवैधानिक संकट पैदा हो गया है। यदि उनका इस्तीफा मंजूर होता है तो उत्तराखंड को फिर एक नया सीएम मिलेगा।

रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बीजेपी अध्यक्ष को लिखे पत्र जनप्रतिधि कानून की धारा 191 ए का हवाला दिया है और कहा है कि वो अगले 6 महीने में चुनकर दोबारा नहीं आ सकते। नड्डा को भेजे अपने पत्र में रावत ने कहा कि मैं 6 महीने के अंदर दोबारा नहीं चुना जा सकता। ये एक संवैधानिक बाध्यता है। इसलिए अब पार्टी के सामने मैं अब कोई संकट नहीं पैदा करना चाहता और मैं अपने पद से इस्ताफा दे रहा हूं।मुख्यमंत्री रावत ने इस्तीफे की औपचारिकता पूरी करने के लिए उत्तराखंड के राज्यपाल बेबी रानी मौर्य से मिलने के लिए समय मांगा है। बताया जा रहा है कि कल शनिवार को तीरथ सिंह रावत गवर्नर हाउस पहुंचकर आधिकारिक तौर पर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप सकते हैं। सूत्रों ने कहा कि उत्तराखंड के विधायक दल की बैठक अगले 24 से 36 घंटों में होने की संभावना है।


उत्तराखंड  : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को अचानक दिल्ली से आया बुलावा, सारे कार्यक्रम  किए रद्द -..आपको बता दें कि तीन दिनों से दिल्ली में डेरा जमाए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को, पिछले 24 घंटों के भीतर दूसरी बार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष जे पी नड्डा से मुलाकात की थी। मुलाकातों के इस दौर से प्रदेश में एक और नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें आरंभ हो गई। नड्डा के दिल्ली स्थित आवास पर उनसे मुख्यमंत्री की लगभग आधे घंटे की यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब रावत के भविष्य को लेकर तमाम तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।खबर आ रही है कि तीरथ सिंह रावत ने ताजा राजीनितक हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे की पेशकश की है। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है कि उनका इस्तीफा मंजूर हुआ है या नहीं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र