अच्छी खबर: अब गर्भवती महिलाएं भी लगवा सकेंगी कोरोना वैक्सीन, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी मंजूरी


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): देश में गर्भवती महिलाएं भी अब कोरोना वैक्सीन लगवा सकेंगी। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शुक्रवार को इसकी घोषणा की। नेशनल टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन इम्यूनाइजेशन (NTAGI) की सिफारिशों को मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ने स्वीकार कर लिया है। 

मत्रालय ने कहा, गर्भवती महिलाएं अब कोविन पर पंजीकरण करा सकती हैं या खुद को टीका लगवाने के लिए नजदीकी कोविड टीकाकरण केंद्र (सीवीसी) में जा सकती हैं।' स्वास्थ्य मंत्रालय ने आगे कहा, 'गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए ऑपरेशनल गाइडलाइन, चिकित्सा अधिकारियों और एफएलडब्ल्यू के लिए परामर्श किट, और जनता के लिए आईईसी मटेरियल को इसके इम्मप्लीमेंटशन के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के साथ शेयर किया गया है। गर्भवती महिला अगर वायरस से संक्रमित हो जाती है तो उनके स्वास्थ्य में तेजी से गिरावट आ सकती है और भ्रूण भी प्रभावित हो सकता है। ऐसे में कोविड-19 की वैक्सीन इस रिस्क को कम कर सकती है। इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के डायरेक्टर-जनरल डॉ. बलराम भार्गव ने बीते दिनों कहा था कि गर्भवती महिलाओं को कोविड-19 का टीका दिया जाना चाहिए क्योंकि यह उनके लिए उपयोगी है।ICMR के एक हालिया अध्ययन से पता चला है कि भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर के दौरान गर्भवती और प्रसवोत्तर महिलाएं पहले की तुलना में अधिक गंभीर रूप से प्रभावित हुईं। इस वर्ष मामले में मृत्यु दर और सिम्पटोमैटिक केस काफी अधिक थे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र