इस वर्ष ‘भारत रत्न’ का सम्मान ‘‘भारतीय डाक्टर’’ को मिलना चाहिए : केजरीवाल


नई दिल्ली (मानवी मीडिया): दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से अपील की कि इस साल का ‘भारत रत्न’ का सम्मान ‘‘भारतीय डाक्टर’’ को मिलना चाहिए।केजरीवाल ने आज स्टेपवन की तरफ से आयोजित ‘डॉक्टर डे’ समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में हिस्सा लेते हुए केंद्र सरकार ने अपील की कि इस साल का ‘भारत रत्न’ का सम्मान ‘‘भारतीय डाॅक्टर’’ को मिलना चाहिए। ‘भारतीय डॉक्टर’ मतलब सभी डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिक से है। शहीद हुए डाक्टरों को यह सच्ची श्रद्धांजली होगी। साथ ही, अपनी जान और परिवार की चिंता किए बिना सेवा करने वालों का यह सम्मान होगा। मुख्यमंत्री ने कोरोना के दौरान शहीद हुए डाॅक्टर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को पूरे देश की तरफ से श्रद्धांजलि अर्पित करते कहा कि दिल्ली सरकार ने शहीद हुए डाॅक्टर या फ्रंटलाइन वर्कर्स के परिवार को एक-एक करोड़ रुपए की सम्मान राशि दी। यह कोई मुआवजा नहीं है, बल्कि यह धन्यवाद बोलने का एक तरीका है कि हम आपके प्रति कृतज्ञ हैं।

केजरीवाल ने ‘भारतीय डाॅक्टर’ को ‘भारत रत्न’ की उपाधि देने की मांग को लेकर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखकर अपील भी की है। उन्होंने पत्र में लिखा है, ‘‘देश चाहता है कि इस वर्ष ‘भारत रत्न’ का सम्मान ‘भारतीय डॉक्टर’ को दिया जाए। इससे मेरा तात्पर्य किसी व्यक्ति विशेष से नहीं है। देश के सभी डॉक्टर्स, नर्स और पैरामैडिक्स के समूह को यह सम्मान मिलना चाहिए।’’उन्होंने आगे लिखा है, ‘‘कोरोना से लड़ते हुए अनेक डॉक्टरों और नर्सों ने अपनी जान गंवाई। यदि हम उन्हें ‘भारत रत्न’ से सम्मानित करते हैं, तो यह उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी। लाखों डॉक्टरों और नर्सों ने अपनी जान और परिवार की परवाह किए बिना निःस्वार्थ भाव से लोगों की सेवा की। उन्हें सम्मानित करने का और शुक्रिया कहने का इससे अच्छा तरीका और क्या हो सकता है। यदि नियम किसी समूह को ‘भारत रत्न’ देने की इजाजत नहीं देते, तो मेरा आपसे आग्रह है कि नियमों को बदला जाए। आज सारा देश अपने डॉक्टरों का आभारी है। उन्हें भारत रत्न से सम्मानित करने से हर भारतीय को खुशी होगी।”‘डॉक्टर डे’ समारोह में वीडियो कांफ्रेंस के जरिए देश के अलग-अलग राज्यों से स्टेप वन से जुड़े 200 से ज्यादा डॉक्टर और वाॅलेंटियर्स ने हिस्सा लिया। केजरीवाल ने स्टेप वन की पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि स्टेप वन की पूरी टीम ने पिछले डेढ़ साल में कोविड-19 दौरान पूरे देश में बढ़-चढ़कर लोगों की सेवा की है। जिस तरह से पूरी मेडिकल समुदाय ने आगे बढ़कर कोरोना काल में देश की सेवा की है, लोगों की मदद की है, पूरा देश इसके लिए बहुत-बहुत आभारी है। कोरोना काल में पूरी सिद्दत के साथ डाॅक्टर्स ने लोगों की सेवा की। ऐसे सभी डॉक्टर, सभी नर्स और स्टाफ को हम सलाम करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए तैयारियां शुरू कर दी हैं।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र