अखिलेश यादव ने साधा बीजेपी पर निशाना ; गंगा पर चलने वाले क्रूज में शराब परोसने वाला बार भी है


वाराणसी (मानवी मीडियागंगा विलास क्रूज  को लेकर समाजवादी पार्टी  के अध्यक्ष अखिलेश यादव  ने बीजेपी पर हमला किया है. अखिलेश यादव ने कहा कि "हमने सुना है कि पवित्र गंगा नदी  पर चलने वाले इस क्रूज पर शराब परोसने वाला बार भी है. उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि अब ये तो बीजेपी वाले ही बता सकते हैं कि क्रूज पर बार है या नहीं, हम तो उसके अंदर गए नहीं है."

सपा अध्यक्ष ने एक प्रेस कॉफ्रेंस के दौरान गंगा विलास क्रूज को लेकर पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि "ये जो पानी का जहाज जो चल रहा है, वो कई सालों से चल रहा है. ये नया नहीं है, मुझे तो किसी ने जानकारी दी है कि ये पिछले 17 साल से चल रहा है. इसमें बस कुछ हिस्सा जोड़ दिया है और ये लोग उसको कह रहे हैं कि हमने शुरू किया है." अखिलेश यादव ने कहा कि "बीजेपी के लोग शोर करने और प्रचार करने में बहुत आगे हैं. सुनने में तो यहां तक आया है कि ये जो पानी का जहाज, क्रूज है, वो अकेला क्रूज नहीं है, उसमें बार भी सुनने में आ रहा है. 
 
गंगा विलास क्रूज को लेकर साधा निशाना
अखिलेश यादव ने कहा कि "मां गंगा पर अभी तक तो आरती सुनते थे, पूजा पाठ की चीज़े सुनते हैं, हम लोग कई बार वहां पर नाव में बैठे हैं तो लोग समझाते हैं कि ये चीज़ करनी है ये चीज नहीं करनी है. ये धार्मिक स्थान है. अब ये क्रूज में बार है या नहीं है ये तो बीजेपी वाले ही बता सकते हैं. हम तो उसके अंदर गए नहीं हैं.

सपा अध्यक्ष लगातार गंगा क्रूज को लेकर सरकार पर हमला बोल रहे हैं. इससे पहले उन्होंने नाविकों को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि अब क्या सरकार नाविकों का भी रोजगार छीनेंगी. भाजपा की धार्मिक स्थलों को पर्यटन स्थल बनाकर पैसा कमाने की नीति निंदनीय है. पूरी दुनिया के लोग काशी का अध्यात्म का अनुभव करने आते हैं विलास-विहार के लिए नहीं. बीजेपी बाहरी चकाचौंध से असल मुद्दों को ढक नहीं पाएगी. 
 
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ही वाराणसी से दुनिया के सबसे लंबे क्रूज को हरी झंडी दिखाई है. ये क्रूज वाराणसी से असम के डिब्रूगढ़ तक का सफर 51 दिनों में पूरा करेगा. 
Previous Post Next Post