डिप्टी सीएम ने हृदय रोग ग्रस्त मरीजों के इलाज में दिए निर्देश


लखनऊ  (
मानवी मीडियाप्रदेश में बढ़ती ठंडक के मद्देनजर अस्पतालों में इलाज की पुख्ता व्यवस्था करें। खासतौर पर हृदय रोग ग्रस्त मरीजों के इलाज में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बतरती जाएगी। राजधानी लखनऊ समेत कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, अयोध्या व अन्य जनपदों में हृदय रोग के मरीजों के इलाज की व्यवस्था को और भी बेहतर बनाया जाए।

आश्यकता पड़ने पर अस्पतालों में बेड़ की संख्या में इजाफ भी करें। इसके अलावा दवाओं का स्टॉक भी दुरुस्त कर लें। सोमवार को डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने यह दिशा निर्देश सभी राजकीय अस्पताल  मेडिकल संस्थानों के अफसरों को दिए हैं।

दरअसल, डिप्टी सीएम बृजेश पाठक ने कहा कि ठंडक में हृदय रोग के मरीजों की संख्या में इजाफा हो जाता है। इन मरीजों को मुकम्मल इलाज कराने के इंतजाम किए हैं। बेड़ों की संख्या क्षमता के अनुसार बढ़ा लें। कहा कि 24 घंटे इमरजेंसी का संचालन किया जाए। इसके अलावा पैथोलॉजीईसीजी  ईको जैसी जांच सभी जरूरतमंद रोगियों की कराई जाए। डिप्टी सीएम ने कहा कि हृदय रोग विभाग की ओपीडी में ज्यादतर डॉक्टर बैठे। ओपीडी में आने वाले मरीजों को समुचित इलाज मिले।

Previous Post Next Post