काशी विश्वनाथ धाम में लोकार्पण की पहली वर्षगांठ पर होगा भव्य आयोजन


वाराणसी: (
मानवी मीडिया उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में पीएम मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण उत्सव केवल काशी ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया देखेगी। बता दें कि लोकार्पण उत्सव पर भगवान शंकर की भव्य और अद्भुत बरात निकलेगी। 13 दिसंबर को मैदागिन से लेकर गंगा घाट होने वाले उत्सव दुनियाभर के श्रद्धालुओं के लिए आकर्षण का केंद्र होगा। वहीं काशी में राजराजेश्वर के धाम के लोकार्पण उत्सव पर आयोजित कार्यक्रमों में सर्वसमाज की उपस्थिति औऱ भागीदारी होगी। 'ना भूतो ना भविष्यति' की तर्ज पर लोकार्पण उत्सव को भव्य और अद्भुत बनाने की तैयारी है। बता दें कि राज्य सरकार की तरफ से भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।


पीएम मोदी ने एक साल पहले किया था लोकार्पण

इस दौरान बाबा विश्वनाथ का धाम वेदमंत्रों से गूंजेगा। इस अद्भुत क्षण के कई महात्मा, संत और धर्माचार्य साक्षी बनेंगे। वहीं मंदिर प्रशासन की तरफ से तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। यूपी की योगी सरकार और अधिकारियों की टीम ने दिन रात मेहनत कर काशी विश्वनाथ धाम भव्य रूप प्रदान किया है। बता दें कि 13 दिसंबर 2021 को पीएम मोदी ने इसका लोकार्पण किया था। इसके बाद मानो काशी में धार्मिक पर्यटन को पंख लग गए। काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के एक साल पूरे होने का उत्सव मनाया जाएगा। लोकार्पण उत्सव पर निकलने वाली शिव बरात में अस्सी से आदिकेशव घाट के बीच बसने वाला सर्वसमाज बाराती की भूमिका निभाएगा। इसेक अलावा मारवाड़ी, गुजराती, सिंधी, पंजाबी, दक्षिण भारतीय समाज समेत कई मेहमान इस उत्सव में शामिल होंगे।


गायिका अनुराधा पौडवाल संग झूमेंगे श्रद्धालु

बता दें कि शिव बरात में लोक विमान, लोक कलाकारों की प्रस्तुतियां और झांकियां आकर्षण का मुख्य केंद्र होंगी। शिव बरात समिति के दिलीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि लोकार्पण उत्सव के मौके पर शिव बारात की नई परंपरा शुरू की जा रही है। काशी विश्वनाथ से जुड़े उत्सव की यह दूसरी बारात होगी। इस उत्सव को भव्य और दिव्य बनाने के लिए काशी की संस्थाओं, लोक कलाकारों को भी जोड़ा गया है। बाबा विश्वनाथ की शोभायात्रा के साथ ही मंदिर में हवन-पूजन, सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रृंखला से भक्त मंत्रमुग्ध होंगे। वहीं गायिका अनुराधा पौडवाल के भजनों में श्रद्धालु गोते लगाएंगे। काशी की सड़कों पर मैदागिन से चितरंजन पार्क तक निकलने वाली शोभायात्रा में लघु भारत का नजारा जीवंत होगा। 


लोक कलाकार करेंगे अपनी कला का प्रदर्शन

मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील वर्मा ने कहा कि काशी विश्वनाथ धाम के लोकार्पण के एक साल पूरा होने के अवसर पर हवन पूजन का आयोजन किया जाएगा। उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक की शिवोत्सव में संस्कृतियों के विविध रंग एकाकार होंगे। बता दें कि मैदागिनी से शोभायात्रा की शुरुआत होगी। इस शोभायात्रा में एक हजार महिलाएं शामिल होंगी। इस दौरान काशी की झांकियों के साथ साहित्यकार, वकील, चिकित्सक के अलावा समाज के सभी लोग शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि लोकार्पण उत्सव में असम, सोनभद्र, बुंदेलखंड एवं गोरखपुर के लोक कलाकार भी अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।

Previous Post Next Post