केजीएमयू में पहली बार किया गया लीवर-किडनी का प्रत्यारोपण

लखनऊ (मानवी मीडिया): किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के डॉक्टरों ने संस्थान का पहला लीवर-किडनी प्रत्यारोपण किया है। 24 अक्टूबर को हमीरपुर में हुए सड़क हादसे में हरदोई के लोनार गांव निवासी 20 वर्षीय युवक को केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान डॉक्टरों ने युवक को ब्रेन डेड घोषित कर दिया। केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने बताया कि संस्थान के डॉक्टरों के कहने पर युवक के परिजन उसके अंगदान को राजी हो गए। गैस्ट्रो सर्जरी विभाग के प्रमुख डॉ. अभिजीत चंद्रा के नेतृत्व में केजीएमयू की टीम ने आजमगढ़ के 58 वर्षीय एक व्यक्ति को युवक का लीवर और एक किडनी का प्रत्यारोपण किया।

दूसरी किडनी को ग्रीन कॉरिडोर के जरिए दूसरे मरीज के लिए संजय गांधी पोस्टग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एसजीपीजीआईएमएस) भेजा गया। युवक के कॉर्निया को केजीएमयू के आई बैंक में रखा गया है।

Previous Post Next Post