नवीन बस टिकटिंग प्रणाली के लिए उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम को मिला अग्रणी राज्य का पुरस्कार

लखनऊ (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  दयाशंकर सिंह ने बताया कि सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलेक्ट्रानिक्स विभाग उत्तर प्रदेश सरकार एवं यूपीडेस्को द्वारा आज इंडिया डिजीटल इम्पावरमेन्ट मीट एण्ड अवार्डस कार्यक्रम का आयोजन गोमतीनगर स्थित ताज होटल में किया गया, जिसमें सार्वजनिक सेवा वितरण के लिये नवाचार और नये युग की प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने में अग्रणी राज्य का पुरस्कार उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम को उनकी नवीन बस टिकटिंग प्रणाली (आई0ओ0टी0- आई0बी0टी0एस0) के लिये यूपीडेक्को द्वारा दिया गया है। 

 दयाशंकर सिंह ने बताया कि उ0प्र0 परिवहन निगम की क्लाउड आधारित नयी बस टिकटिंग प्रणाली के अन्तर्गत आधुनिक एन्ड्रोएड टिकटिंग मशीन के माध्यम से बसों में टिकट निर्गमन की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने बताया कि परिवहन निगम की नयी टिकटिंग प्रणाली को सराहा गया तथा सूचना प्रोद्योगिकी के नवाचार व नयी तकनीकों का प्रयोग कर सार्वजनिक सेवाओं में सुधार हेतु पुरस्कृत किया गया। परिवहन निगम की इस नयी बस टिकट प्रणाली के अन्तर्गत यात्रियों हेतु डिजिटल माध्यमों से भुगतान कर टिकट लेनें की व्यवस्था की गयी है, निगम के बस स्टेशनों पर बुकिंग काउन्टर के माध्यम से वातानुकूलित एवं लम्बी दूरी की साधारण सेवाओं में भी ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा यात्रियों हेतु उपलब्ध करायी गयी है।

 सिंह ने बताया कि इस कार्यक्रम में उ0प्र0 परिवहन निगम की ओर से श्री यजुवेन्द्र कुमार, प्र0प्र0(आई0टी0) द्वारा प्रतिभाग किया गया। उन्होंने बताया कि उ0प्र0 परिवहन निगम की इस नयी प्रणाली के अन्तर्गत निगम की समस्त 11200 बसों में एन्ड्रोएड आधारित टिकट मशीनों से औसतन प्रतिदिन लगभग 14 लाख यात्रियों को टिकट प्रदान किये जाते हैं। इन मशीनों से टिकट निर्गमन का डाटा रियल टाइम पर क्लाउड आधारित सर्वर पर प्राप्त हो जाता है, जिससे कि किसी भी समय निगम के टिकट राजस्व की वस्तुस्थिति रियल टाइम पर देखी जा सकती है।

 दयाशंकर सिंह ने बताया कि भविष्य में निगम बसों में वाहन ट्रैकिंग पैनिक बटन व एनसीएमसी इत्यादि परियोजनाएं भी यात्रियों की सुविधाओं के लिए उपलब्ध करायी जायेगी, जिसके लिए निविदा प्रक्रियाएं गतिशील है

Previous Post Next Post