मंत्री का करीबी बताकर परिवहन विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर ठग ने वाला गिरफ्तार


लखनऊ (मानवी मीडिया) एस0टी0एफ0, उत्तर प्रदेश को मा0 मंत्री जी का करीबी बताकर परिवहन विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले शातिर ठग को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

*गिरफ्तार अभियुक्त का विवरणः*


1-      अनूप दूबे पुत्र राम सहाय दूबे नि0 टीचर कालोनी, वार्ड नं0 11, खड्डा कुशीनगर।

हाल पता-स्टार अपार्टमेण्ट 1-फ्लोर, फ्लैट नं0-101 आतिफ बिहार कालोनी, तिवारीगंज, लखनऊ। 

*बरामदगीः*


1- 02 अदद कूटरचित नियुक्ति पत्र परिवहन विभाग।

2- 02 अदद मोबाइल फोन।

3- रू0 740/- नगद।

*गिरफ्तारी का दिनांक, समय तथा स्थान-*


बीबीडी के सामने थाना क्षेत्र बीबीडी, लखनऊ दिनांक 08-08-2022 समय 19.00 बजे। 

       उल्लेखनीय है कि मा0 मंत्री जी का करीबी बताकर परिवहन विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले व्यक्ति के बारे में सूचना प्राप्त हो रही थी। जिसके क्रम में श्री धर्मेश कुमार शाही, पुलिस उपाधीक्षक, एसटीएफ लखनऊ को अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था। जिसके अनुपालन में उप निरीक्षक श्री अतुल चतुर्वेदी के नेतृत्व में उ0नि0 प्रदीप सिंह, मु0आ0 नीरज पाण्डेय, सुशील सिंह की एक टीम गठित कर अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी। 

  अभिसूचना संकलन के दौरान दिनांक 08-08-2022 को विशेष सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि मा0 मंत्री जी के नाम पर परिवहन विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला व्यक्ति बीबीडी कालेज के सामने आने वाला है, जो कुछ लोगों को परिचालक पद पर स्थायी नियुक्ति पत्र देने के लिए बुलाया है। इस सूचना पर विश्वास कर एसटीएफ टीम द्वारा उक्त स्थान पर पहुॅचकर आवश्यक बल प्रयोग कर समय लगभग 19.00 बजे गिरफ्तार कर लिया गया।

       पूछताछ पर अभियुक्त उपरोक्त ने बताया कि मैं न्यूज-80 का पत्रकार बनकर मंत्री  से मिला था। उनसे सम्पर्क में आने के बाद बेरोजगार लोगों से मिलकर उन्हे बताता था कि मैं  मंत्री का करीबी हूॅ। परिवहन विभाग में परिचालक के पद पर नियुक्ति करा दूगा। इस पर लोग विश्वास करके नौकरी के लिए बात करते थे तो मैं उनसे तीन लाख रूपये में नियुक्ति की बात करता था जिसमें से एक लाख रूपये एडवांस में लेने तथा दो लाख रूपये नियुक्ति पत्र देने के समय लेने की बात थी। इसी क्रम संदीप प्रजापति पुत्र नन्दलाल प्रजापति नि0 मानिकपुर दोहरीघाट, मऊ एवं नरेश राय पुत्र सुशील राय नि0 ग्राम अमिला थाना घोसी, मऊ को नियुक्ति पत्र देने के लिए बुलाया था। 

     गिरफ्तार अभियुक्त के विरूद्ध थाना बीबीडी, जनपद-लखनऊ में मु0अ0सं0 191/2022 धारा 406, 420, 467, 468, 471 भादवि का अभियोग पंजीकृत कराया गया है। अग्रिम विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जायेगी।

Previous Post Next Post