भारतीय लेखक सलमान रुश्दी पर न्यूयॉर्क में जानलेवा हमला, वेंटीलेटर पर

 

न्यूयॉर्क (मानवी मीडिया): भारतीय मूल के ब्रिटिश-अमेरिकी लेखक सलमान रुश्दी पर शुक्रवार देर रात न्यूयॉर्क में जानलेवा हमला हुआ। घटना के वक्त वो एक लाइव प्रोग्राम में इंटरव्यू दे रहे थे। मुंबई में पैदा हुए और बुकर पुरस्कार से सम्मानित रुश्दी पश्चिमी न्यूयॉर्क के चौटाउक्वा संस्थान में एक कार्यक्रम के दौरान अपना व्याख्यान शुरू करने वाले ही थे कि तभी एक व्यक्ति मंच पर चढ़ा और रुश्दी को घूंसे मारे और चाकू से उन पर हमला कर दिया। वहां मौजूद एक डॉक्टर ने फर्स्ट एड दी। इसके बाद एयर लिफ्ट करके हॉस्पिटल ले जाया गया। पुलिस के मुताबिक रुश्दी के गले और पेट में जख्म हैं।

फिलहाल, अस्पताल में रुश्दी की सर्जरी की जा चुकी है और उनको वेंटिलेटर पर रखा गया है। वहीं हमलावर की पहचान न्यू जर्सी के 24 वर्षीय हादी मतार के तौर पर हुई है। घटना के तुरंत बाद संबंधित व्यक्ति को तुरंत दबोच लिया गया।

रुश्दी का जन्म 19 जून 1947 को मुंबई में हुआ था। 75 साल के सलमान रुश्दी ने अपनी किताबों से पहचान बनाई। अपने दूसरे ही उपन्यास ‘मिडनाइट्स चिल्ड्रन’ के लिए 1981 में ‘बुकर प्राइज’ और 1983 में ‘बेस्ट ऑफ द बुकर्स’ पुरस्कार से सम्मानित किए गए। रुश्दी ने लेखक के तौर पर शुरुआत 1975 में अपने पहले उपन्यास ‘ग्राइमस’ (Grimus) के साथ की थी।

Previous Post Next Post