मोबाइल को लेकर सिपाही ने साथी को लाठी-डंडो से पीटा, फिर पंखे से लटकाया


मथुरा (मानवी मीडिया
एक सिपाही को कथित तौर पर बुरी तरह से पीटने और फिर उसे फांसी पर लटकाने के आरोपी दूसरे सिपाही को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) शिरिश चंद्र ने कहा कि मृतक सिपाही आशीष (25) के पिता रवींद्र सिंह की शिकायत पर नौझील पुलिस थाना में आरोपी कांस्टेबल रोहित के खिलाफ आईपीसी और एससी/एसटी कानून की धाराओं के तहत शुक्रवार को मामला दर्ज किया गया।

उन्होंने बताया कि दोनों सिपाही एक ही कमरे में रहते थे और बृहस्पतिवार की रात दोनों ने शराब पी थी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मोबाइल फोन के इस्तेमाल को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ, जिसके बाद यह घटना हुई। पूछताथ में आरोपी रोहित ने अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जब आशीष ने आरोपी के खिलाफ अनुसूचित जाति-जनजाति (एससी-एसटी) कानून के तहत प्राथमिकी दर्ज करने की धमकी दी तो आरोपी रोहित ने लाठी से उसकी पिटाई शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि इसके बाद आरोपी ने उसे छत के पंखे से लटका दिया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मृत्यु का कारण फांसी बताया गया है। रोहित को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। मेरठ का निवासी आशीष 28 मई, 2021 से नौझील पुलिस थाना में तैनात था। वह 2020 में पुलिस मे शामिल हुआ था। वह नौझील कस्बे के रतिया बाजार मोहल्ला में रोहित के साथ किराए के मकान में रहता था।  


Previous Post Next Post