पीएनबी को पहली तिमाही में 308 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ, एनपीए घटा

लखनऊ, (मानवी मीडिया) सार्वजनिक क्षेत्र के अग्रणी बैंकों में से एक पंजाब नैशनल बैंक ने वर्तमान वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 308 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है। बैंक के एनपीए में भी गिरावट दर्ज की गयी है।

हालांकि बैंक ने सालाना आधार पर बीते साल की इसी अवधि में 1023.46 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ अर्जित किया था। शुक्रवार को पीएनबी के वित्तीय वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के नतीजों को एलान करते हुए बैंक के एमडी व सीईओ अतुल कुमार गोयल ने बताया कि इस अवधि में बैंक का वैश्विक अग्रिम सालाना आधार पर 10.21 फीसदी बढ़कर 800177 करोड़ रुपये हो गया है जबकि खुदरा ऋण 10.77 फीसदी भड़कर 146321 करोड़ रुपये हो गया है।

वित्त वर्ष की पहली तिमाही में पीएनबी का कासा शेयर 119 बीपीएस बढ़कर 46.34 फीसदी हो गया वहीं बचत जमाएं 6.61 फीसदी बढ़कर 447258 करोड़ रुपये हो गई । उन्होंने जानकारी दी कि वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में शुद्ध लाभ 308 करोड़ रुपये जिसमें तिमाही दर तिमाही के आधार पर 52.48 फीसदी की वृद्धि हुयी है। वित्त वर्ष’ 23 की प्रथम तिमाही में परिचालन लाभ  5379 करोड़ रहा वहीं शुद्ध ब्याज आय वर्ष दर वर्ष आधार पर 4.27 फीसदी बढ़कर 7543 करोड़ हो गई । बीते साल 30 जून को समाप्त तिमाही के सकल एनपीए 14.33 फीसदी से 306 अंको का सुधार होकर इस साल की पहली तिमाही में 11.27 फीसदी हो गया है। बैंक का नेट एनपीए बीते साल की इसी अवधि के 5.84 फीसदी से 156 बीपीएस के सुधार के साथ जून 2022 में 4.28 फीसदी हो गया है। पीएनबी की पूंजी पर्याप्त में भी इस साल मार्च की तिमाही में 14.50 फीसदी के मुकाबले सुधार दर्ज करते हुए जून 2022 में 14.82 फीसदी हो गया है। बैंक के ऋण जमा अनुपात (सीडी रेशियो) में भी खासी बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी है। बीते साल जून में समाप्त तिमाही में 66.14 फीसदजी के सीडी रेशियों के मुकाबले इस साल इसी अवधि में यह 70.39 फीसदी हो गया है।

Previous Post Next Post