राष्ट्रपति ने किए ठाकुर बांकेबिहारी के दर्शन


मथुरा (मानवी मीडियाराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ठाकुर बांकेबिहारी की नगरी वृंदावन में हैं। सोमवार की सुबह करीब 9.45 बजे कृष्णा कुटीर के समीप बनाए गए हेलीपैड पर राष्ट्रपति का हेलीकॉप्टर उतरा। यहां उनका स्वागत प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया। इसके बाद राष्ट्रपति, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर के लिए रवाना हो गए। मंदिर में आम भक्तों का प्रवेश रोक दिया गया। राष्ट्रपति का आगमन होते ही लोकल फोर्स और अधिकारी हटाकर राष्ट्रपति के लिए आईं सुरक्षा एजेंसियों ने कमान संभाल ली। जो जहां है, उसे वहीं रोक दिया गया। 

राष्ट्रपति के स्वागत में किए गए विशेष इंतजाम  

राष्ट्रपति के स्वागत को ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर में खास इंतजाम किए गए। मंदिरों को फूलों से सजाया गया। राष्ट्रपति के मंदिर परिसर में प्रवेश करते ही वेद मंत्रोच्चारण के मध्य स्वागत किया गया। इसके बाद गर्भगृह के सामने वीआईपी गैलरी में पहुंचे। पूजन में राष्ट्रपति जन-जन के आराध्य ठाकुर श्रीबांकेबिहारी को इत्र, गुलाब, फल एवं मिठाई निवेदित किया। ठाकुरजी देशी-विदेशी फूलों की छांव में विराजमान होकर दर्शन दिए। राष्ट्रपति काफी देर तक अपलक ठाकुर बांकेबिहारी की मनोहरी छवि निहारते रहे। दर्शन के दौरान कृष्णा कुटीर की पांच माताएं भी मंदिर में मौजूद रहीं। 

छावनी बना वृंदावन 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सुरक्षा को लेकर वृंदावन को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात है। सोमवार की सुबह जिस मार्ग से राष्ट्रपति गुजरेंगे, उस मार्ग को रविवार रात को ही सुरक्षा घेरे में ले लिया गया है। एडीजी राजीव कृष्ण और आईजी नचिकेता झा ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। एडीजी ने बताया कि रात में ही वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। जब तक राष्ट्रपति वृंदावन रहेंगे। वाहनों के प्रवेश पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। 

बांकेबिहारी मार्ग पर सुरक्षा का कड़ा घेरा

एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने बताया कि राष्ट्रपति की सुरक्षा में दो डीआईजी, आठ एसपी की तैनाती की गई है। 12 अपर पुलिस अधीक्षक के साथ-साथ आगरा जोन के 28 डिप्टी एसपी भी लगाए गए हैं। ठाकुर श्रीबांकेबिहारी मंदिर पहुंचने वाले मार्ग पर सुरक्षा घेरा कड़ा है। इस मार्ग को जोड़ने वाली सड़कों, गलियों में बैरिकेडिंग की गई है। श्रद्धालुओं को भी प्रवेश नहीं दिया गया है।


ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर रविवार शाम एसएसपी डॉ. गौरव ग्रोवर निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था में लगे मंदिर के निजी सुरक्षा कर्मियों को दिशा-निर्देश दिए। एसएसपी ने बताया कि कृष्णा कुटीर और बांकेबिहारी मंदिर तक लगभग एक हजार पुलिस अधिकारी और सशस्त्र पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। बंदरों के आतंक से निपटने के लिए विभिन्न पॉइंट पर लंगूरों को तैनात किया गया है। 

Previous Post Next Post