यूपी के दो लाख 20 हजार लोगों की फंस गई पेंशन


शाहजहांपुर (
मानवी मीडिया वृद्धावस्था पेंशन योजना के 1 लाख 2 हजार 470 लाभार्थी हैं। इसमें 45 हजार लाभार्थियों का ही सत्यापन हो सका है। इसके अलावा निराश्रित महिला पेंशन योजना के 57 हजार लाभार्थी हैं, इनमें 4550 का आधार सत्यापन हो पाया है। वहीं दिव्यांगजन पेंशन के 22 हजार 272 लाभार्थी हैं, इसमें से 8 हजार का ही सत्यापन हो पाया है। बाकी का सत्यापन चल रहा है। सत्यापन पूरा होने के बाद डाटा भेज दिया जाएगा।

जुलाई में आएगी किश्त

पीलीभीत जिले में 79623 बुजुर्ग पेंशन के पात्र हैं। इन्हें जनवरी में मार्च तक की किश्त मिली थी। अब जुलाई के महीने में अप्रैल, मई, जून की पेंशन मिलेगी। पेंशन का सत्यापन कार्य भी चल रहा है। समाज कल्याण अधिकारी विपिन वर्मा ने बताया कि सभी पेंशनर्स जीवित प्रमाण पत्र लिया जा रहा है। आधार कार्ड को खाते से जुड़वा लें।

प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद नए वित्तीय वर्ष में अब तक बुजुर्ग, निराश्रित महिलाओं और दिव्यांगों को पेंशन नहीं मिल सकी है। वित्तीय वर्ष समापन के बाद अप्रैल महीने में वार्षिक सत्यापन होता है। मई महीने में जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद जून में पेंशन भेजी जाती है। लेकिन जिले में अब तक सत्यापन व जांच प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी है इससे सत्यापन के फेर में 2.20 लाख से ज्यादा पेंशनरों की पेंशन फंसी है।

खीरी जिले में करीब एक लाख बुजुर्ग ऐसे हैं जिनको समाजकल्याण विभाग से वृद्धावस्था पेंशन दी जाती है। पहले यह पेंशन पांच सौ रुपये थी बाद में सरकार ने बढ़ाकर एक हजार रुपये कर दी है। वार्षिक सत्यापन अप्रैल महीने में कराने के बाद तीन महीने की पेंशन दी जाती है। चुनाव व वित्तीय वर्ष होने के कारण सरकार ने दिसम्बर में पेंशन देने के बाद जनवरी में मार्च महीने तक की एडवांस पेंशन दे दी गई थी। इसके बाद पेंशन नहीं दी गई है। अगर आंकड़ों को देखा जाए जाए तो जून महीने में पेंशन जानी है लेकिन सत्यापन अब तक पूरा नहीं हो सका है।

जिला समाजकल्याण अधिकारी सुधांशु शेखर ने बताया कि एक-दो ब्लॉकों का सत्यापन अभी नहीं आया है। बाकी आ गया है। डाटा अपलोड किया जा रहा है। उधर प्रोबेशन विभाग से करीब 98 हजार निराश्रित (विधवा) महिलाओं को पेंशन दी जाती है। सत्यापन न होने के कारण इनको भी अब तक पेंशन नहीं मिल सकी है। जिला प्रोबेशन अधिकारी संजय निगम ने बताया कि जून के अन्तिम सप्ताह तक तीन महीने की पेंशन अप्रैल, मई व जून की भेजी जाती है। दो ब्लॉकों की पूरी सत्यापन रिपोर्ट नहीं आई है। 20 जून तक डाटा अपलोडकर दिया जाएगा। उधर जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण अधिकारी वीरपाल ने बताया कि 21287 दिव्यांगों को पेंशन दी जाती है। सत्यापन रिपोर्ट न देने वाले ब्लॉकों को पत्र लिखा गया है। जल्द ही डाटा भेज दिया जाएगा। जून के लास्ट तक पेंशन भेज दी जाएगी।

शाहजहांपुर में भी चल रहा सत्यापन

वित्तीय वर्ष का समापन व चुनाव को देखते हुए सरकार ने दिसम्बर में तिमाही पेंशन दी। इसके बाद जनवरी महीने में मार्च तक की एडवांस पेंशन दे दी। पेंशन लाभार्थियों के खाते में जनवरी में पेंशन गई थी। इसके बाद करीब पांच महीने हो गए। अब लाभार्थी बता रहे हैं कि पांच महीने से पेंशन नहीं आई है। जबकि अधिकारी बताते हैं कि मार्च तक पेंशन जा चुकी है। अप्रैल, मई व जून की पेंशन जून महीने के लास्ट वीक तक पहुंच जाएगी।

Previous Post Next Post