गंगा दशहरा: 08 जून के स्नान को लेकर यूपी-दिल्ली का ट्रैफिक रहेगा डायवर्ट


 हरिद्वार (मानवी मीडिया
गंगा दशहरा स्नान पर्व को लेकर हरिद्वार पुलिस ने तैयारी शुरू कर दी है। हाईवे पर आठ जून की दोपहर के बाद से भारी वाहन स्नान पर्व सकुशल सम्पन्न होने तक नहीं दौड़ सकेंगे। पूरे मेला क्षेत्र में चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी जाएगी। गंगा दशहरा स्नान को लेकर धर्मनगरी के होटलों में बुकिंग का दौर शुरू हो गया है। 

हाल ही में सम्पन्न हुई सोमवती अमावस्या पर लागू किए गए यातायात प्लान को बरकरार रखा जाएगा। हालांकि पंजाब-हरियाणा की तरफ से आने वाले यात्री वाहनों को धीरवाली पार्किंग में पार्क कराने को लेकर मंथन चल रहा है। नौ जून को गंगा दशहरा का स्नान पर्व है। इस स्नान पर्वपर कई राज्यों से श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाने पहुंचते हैं।


गंगा दशहरा स्नान पर्व पर दिल्ली से आ रहे यात्री वाहन वाया लक्सर होते हुए सीधे बैरागी कैंप पार्किंग में पहुंचेंगे। इसके अलावा सहारनपुर की तरफ से आ रहे यात्री वाहन इस बार भगवानपुर से होते हुए धनौरी, भेल तिराहे बहादराबाद होते हुए सिंहद्वार की तरफ सीधे नहीं आ सकेंगे, उन्हें भेल तिराहे से शिवालिक नगर से होते हुए धीरवाली पार्किंग में पार्क कराया जाएगा।

हालांकि यह योजना अभी पाइप लाइन में है। डीआईजी-वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि आठ जून को पुलिस मेला क्षेत्र में ड्यूटी पर तैनात कर दी जाएगी। दोपहर बाद यातायात का दबाव होने पर भारी वाहन भी हाईवे पर प्रतिबंधित कर दिए जाएंगे। स्नान पर्व सम्पन्न होने के बाद उन्हें छोड़ा जाएगा।

गंगा दशहरा : होटल 90 फीसदी तक बुक
गंगा दशहरा स्नान को लेकर धर्मनगरी के होटलों में बुकिंग का दौर शुरू हो गया है। 90 फीसदी होटल और धर्मशालाएं फुल हो चुकी हैं। इस बार गंगा दशहरा में 20 से 25 लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान है। इसी हिसाब से प्रशासन ने अपनी तैयारियां शुरू की है। 9 जून को गंगा दशहरा और 10 जून को निर्जला एकादशी का स्नान तय है।

साथ ही चारधाम यात्रा भी चल रही है। ऐसे में हरिद्वार में होटलों और धर्मशालाओं में अच्छी खासी बुकिंग शुरू हो गई है। इस बार 8 जून से लेकर 11 जून तक की बुकिंग की अधिक डिमांड है। क्योंकि गुरुवार को गंगा दशहरा और अगले दिन निर्जला एकादशी स्नान होने के बाद दो दिन का वीकेंड भी पड़ रहा है।

इसी लिहाजा चार दिन धर्मनगरी में अच्छी खासी भीड़ उमड़ने की उम्मीद है। होटलों में अभी बुकिंग शुरू हो गई। धर्मशालाओं के फुल होने का कारण चारधाम यात्रा भी है। चूकिं चारधाम में जाने वाले यात्री हरिद्वार की विभिन्न धर्मशालाओं में रुके हुए हैं। हरिद्वार में करीब 450 धर्मशालाएं और 1200 होटल हैं।

सामान्य होटलों में 1500 रुपये से लेकर 3000 रुपये तक कमरा मिल रहा है। 2019 में 26 लाख आए थे श्रद्धालु: वर्ष 2016 के गंगा दशहरा स्नान में 18.25 लाख, 2017 में 13.55 लाख, 2018 में 21.36 लाख और 2019 के स्नान में सबसे अधिक 26.05 लाख श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचे थे।

लेनी होगी सीख : 30 मई को संपन्न हुए सोमवती अमावस्या के स्नान से पुलिस प्रशासन को सीख लेनी होगी। हाईवे और सर्विस लेन में वाहन रुक रुक कर चल रहे थे। करीब 38 लाख श्रद्धालु सोमवती स्नान को पहुंचे थे। बैरागी कैंप में वाहनों की पार्किंग बनाने के बावजूद भी हाईवे किनारे वाहन पार्क किए गए थे।

गंगा दशहरा स्नान के लिए बुकिंग काफी आ रही है। स्नान के बाद वीकेंड भी है, जिस कारण बुकिंग मिल रही है। 90 फीसदी होटलों में बुकिंग हो गई है। इन तीन दिनों में किसी तरह का डिस्काउंट नहीं दिया जा रहा है। 
मिंटू पंजवानी, महामंत्री, हरिद्वार होटल एसोसिएशन

होटलों में रेट नहीं बढ़ाए गए हैं। एसी वाला कमरा सामान्य रेट 1500 से 2000 में मिल रहा है। स्नान को लेकर बुकिंग अच्छी है। उम्मीद है कि सोमवती के स्नान की तरह ही गंगा दशहरा के स्नान पर काम होगा। 
विभाष मिश्रा, होटल कारोबारी

बुकिंग भी मिल रही है, लेकिन कई लोग पूछताछ कर रहे हैं। लोग भीड़ को लेकर हरिद्वार की स्थिति भी पूछ रहे हैं। गंगा दशहरा पर अच्छे कारोबार की उम्मीद है।
कुलदीप शर्मा, अध्यक्ष बजट होटल एसोसिएशन

15 जून तक धर्मशालाएं बुक हैं। कैंसिल होने पर ही किसी अन्य यात्री को कमरा दिया जा रहा है। धर्मशालाओं में चारधाम जाने वाले यात्री भी रुके हैं। 
विकास तिवारी, महामंत्री, राष्ट्रीय धर्मशाला सुरक्षा समिति

Previous Post Next Post