उ0प्र0 पुलिस के लगभग 40 हजार और विभिन्न पदों के चयन की प्रक्रिया भी होगी शुरू


लखनऊः (मानवी मीडिया)उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  के निर्देश पर पुलिस विभाग में युवाओं को रोजागार उपलब्ध कराने के 100 दिन के अभियान के तहत 10 हजार पुलिस भर्ती के निर्धारित लक्ष्य को निर्धारित समय से पहले ही शत्-प्रतिशत पूर्ण कर लिया गया है। उल्लेखनीय है कि वर्तमान सरकार के पिछले कार्यकाल में पुलिस विभाग में विभिन्न पदों पर   1 लाख 53 हजार से अधिक भर्तियां की गयी थी, महिलाओं की संख्या 22 हजार से अधिक रही थी। 

अपर मुख्य सचिव, गृह  अवनीश कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुये बताया है कि शासन द्वारा निर्धारित उक्त लक्ष्य की पूर्ति हेतु विशेष प्रयास किये गये। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा 9534 युवाओं को उपनिरीक्षक एवं समकक्ष पदों पर चयनित करके प्रदेश के पुलिस बल में सम्मिलित होकर समाज में सेवा एवं सुरक्षा करने का अवसर प्रदान कराया गया है। पुलिस की इस भर्ती से प्रदेश को 1805 महिला उप निरीक्षक एक साथ प्राप्त होंगी, जो महिलाओं के सशक्तिकरण के साथ-साथ महिलाओं की सुरक्षा एवं महिला हितों की दृष्टि से एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी। इसके अलावा कुल 500 मृतक आश्रितों की भर्ती के संबंध में भी कार्यवाही की गयी है। 

इस प्रकार गृह विभाग द्वारा 100 दिन में पुलिस भर्ती के निर्धारित लक्ष्य की शत्-प्रतिशत पूर्ति कर ली गयी है। उल्लेखनीय है कि इस भर्ती में युवा वर्ग का सर्वाधिक प्रतिनिधित्व है तथा इसमें लगभग 60 प्रतिशत चयनित अभ्यर्थी 25 वर्ष से कम आयु के हैं।  

उ0प्र0 पुलिस में उपनिरीक्षक, नागरिक पुलिस 9027 पद, प्लाटून कमाण्डर पीएसी 484 पद तथा अग्निशमन द्वितीय अधिकारी 23 पद अर्थात कुल 9534 रिक्त पदों के सापेक्ष उक्त चयन किया गया है। 

यह चयन ऑनलाइन लिखित परीक्षा के बाद अभिलेखों की संवीक्षा, शारीरिक मानक परीक्षा व शारीरिक दक्षता परीक्षा में सफल अभ्यथियों में से 9534 पदों के सापेक्ष अभ्यर्थियों का चयन उनकी श्रेष्ठता एवं आरक्षण नियमों के अधीन किया गया है।

अपर मुख्य सचिव, गृह ने बताया कि पुलिस की यह भर्ती पूरी तरह से निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से की गयी है तथा इसमें प्रदेश के हर जिले से प्रतिनिधित्व प्राप्त हुआ है। इस भर्ती में प्रदेश पुलिस के इतिहास में सेवाएं देने के लिए विभिन्न उच्च शैक्षिक एवं तकनीकी योग्यताओं को धारित करने वाले छात्र आकृष्ट हुए हैं। इसमें प्रमुखतः बी0ई0, बी0टेक0, बी0सी0ए0, बी0बी0ए0 तथा एल0एल0बी0 डिग्रीधारकों में प्रदेश पुलिस बल में सम्मिलित होकर समाज में सेवा के प्रति झुकाव प्रदर्शित किया है। इसका स्पष्ट प्रभाव भविष्य में पुलिस बल की कार्यप्रणाली एवं जनता के प्रति उनके व्यवहार पर भी दिखाई देगा साथ ही हर थाने पर लगभग एक उप निरीक्षक तकनीकी रूप से दक्ष इंजीनियर भी उपलब्ध हो सकेगा। 

 अवस्थी ने बताया कि  मुख्यमंत्री  के निर्देशानुसार उ0प्र0 पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा प्रदेश पुलिस के विभिन्न पदों पर लगभग 40 हजार और पदों पर चयन की प्रक्रिया प्रारम्भ की जा रही है, जो विभिन्न स्तरों पर प्रचलित है। इसमें से प्रदेश पुलिस की रेडियों शाखा के अन्तर्गत 2430 पदों के सापेक्ष चयन हेतु शीघ्र ही लिखित परीक्षा आयोजित करके अभ्यर्थियों को चयनित किये जाने का निर्णय लिया गया है। 


Previous Post Next Post