जो 75 साल में नहीं हुआ मोदी सरकार ने कर दिखाया: कांग्रेस


नयी दिल्ली(मानवी मीडिया )- कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के अभाव के कारण देश से विदेशी निवेशक भाग रहे हैं, भ्रष्टाचार सिर चढ़ कर बोल रहा है तथा महंगाई आसमान छू रही है, इसलिए रुपया 75 साल में सबसे निचले स्तर पर चला गया है।

कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर 77.41 पैसा प्रति डॉलर की कीमत पर पहुंच गया है और 75 साल में पहली बार रुपया इस स्तर पर गिरकर एक तरह से आईसीयू में पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि देश में धार्मिक आधार पर लोगों की भावनाएं भड़काई जा रही हैं और अशांति का माहौल है। सरकार की आर्थिक नीतियां नहीं होने के कारण चारों तरफ महंगाई का बोलबाला है। पेट्रोल, डीजल तथा आवश्यक वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे रहें है तथा निवेशक देश छोड़कर वापस जा रहा है। उनका कहना था कि भ्रष्टाचार, नीति नहीं होने, धर्म के आधार पर देश में अशांति का माहौल और देश तथा राज्यों पर अत्यधिक कर्ज होने जैसे कई कारणों से निवेशक भाग रहे हैं।

प्रवक्ता ने कहा कि देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार गिर रहा है। मार्च और अप्रैल के 15 दिन में देश का मुद्रा भंडार 604 अरब डालर से गिरकर 536 अरब डाल रह गया और एक सप्ताह के दौरान 31 अरब डालर का निवेश बाहर चला गया है। भारतीय जनता पार्टी हिंदू मुसलमान का माहौल पैदा कर धार्मिक टकराव को बढावा दे रहा है इसलिए निवशकों और विदेशी निवशकों का पैसा बाहर जा रहा है।

सुरजेवाला ने इससे पहले एक ट्वीट में रुपए की गिरती कीमत पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा “भारत के इतिहास में आज रुपया आईसीयू में है, मार्गदर्शक मंडल की उम्र कब की पार कर चुका है,गैर निष्पादित संपत्ति-एनपीए 75 साल में सबसे ज़्यादा है, सर्वाधिक बेरोज़गारी है, महंगाई की मार ने कमर तोड़ दी है, सर्वाधिक महंगा पेट्रोल और डीज़ल है, मोदी है तो मुमकिन है।”

Previous Post Next Post