बच्चों की लड़ाई में भिड़े दो संप्रदाय, हिरासत में लिए 37 लोग


नई दिल्ली (
मानवी मीडिया): दिल्ली के वेलकम इलाके में बच्चों के बीच झगड़े के बाद दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए। विवाद इतना बढ़ा कि दोनों समुदाय के लोगों ने एक-दूसरे पर पत्थरबाजी की। मामले की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने 37 लोगों को हिरासत में ले लिया। दिल्ली पुलिस का कहना है कि कड़ा संदेश देने के लिए पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ दंगे की धाराओं के तहत FIR दर्ज की है, इनमें से अब तक तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। फिलहाल मामले की जांच जारी है। जिन लोगों को हिरासत में लिया गया है, मामले में उनकी भूमिका की भी जांच की जा रही है। पुलिस ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज मिला है जिसके आधार पर दोषियों को चिन्हित किया जा रहा है। 

दरअसल, दिल्ली के वेलकम इलाके में बुधवार रात पार्क में दो समुदाय के बच्चे खेल रहे थे। इस दौरान किसी बात को लेकर बच्चों के बीच झगड़ा हो गया। हालांकि विवाद किस बात को लेकर हुआ था, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है। विवाद बढ़ने के बाद बच्चों के परिजन भी मौके पर जुटे। थोड़ी देर बाद ही दोनों समुदाय के बीच पत्थरबाजी शुरू हो गई। इसी बीच किसी ने दिल्ली पुलिस को रात सूचना दी कि पार्क में बच्चों के बीच झगड़ा हो गया है। सूचना के बाद पुलिस की एक टीम को मौके पर भेजा गया।

पुलिस को पहली कॉल के थोड़ी देर बाद ही दूसरी कॉल आई। फोन पर जानकारी दी गई कि दो समुदायों के बीच झगड़ा हो गया है। दोनों ओर से पत्थरबाजी हो रही है। मामले की गंभीरता को समझते हुए तुरंत भारी संख्या में पुलिस फोर्स और सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंच गए। शुरुआती जांच में यह पता लगा कि बच्चों के बीच में पार्क में खेलते वक्त झगड़ा हो गया जो थोड़ी देर बाद बड़े झगड़े में तब्दील हो गया। 

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के डीसीपी संजय सेन ने बताया कि पुलिस को दूसरी कॉल आई और दो समुदायों के बीच झगड़े की बात कही गई। इसके बाद मौके पर भारी संख्या में पुलिस और सीनियर अधिकारी पहुंच गए। पुलिस के मुताबिक, नागरिक भाईचारा कमेटी के लोगों और स्थानीय लोगों की समझदारी की वजह से बात नहीं बढ़ी। 

Previous Post Next Post