मदरसा शिक्षा का आधुनिकीकरण किया जाए

लखनऊ: (मानवी मीडिया ) उत्तर प्रदेश सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मुस्लिम वक्फ एवं हज कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने आज कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग के सर्वांगीण विकास के लिए मदरसा शिक्षा को बेहतर बनाते हुए मदरसों का आधुनिकीकरण किया जाए। उन्होंने कहा कि वक्फ की संपत्तियों का नियमानुसार रखरखाव सुनिश्चित किया जाये और वक्फ संपत्तियों का उपयोग मदरसों तथा अस्पताल बनाने आदि जनहित कार्यों में किया जाये।

 अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री  धर्मपाल सिंह ने यह बातें आज विधान भवन के तिलक हॉल में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग और अल्पसंख्यक आयोग के साथ आयोजित परिचयात्मक बैठक में कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  के दिशा-निर्देशन में अल्पसंख्यक वर्गों के सामाजिक उत्थान, आर्थिक विकास एवं बेहतर शिक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। अल्पसंख्यक वर्ग को सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का अधिकाधिक लाभ दिया जाए ताकि उनको सशक्त बना कर राष्ट्र निर्माण में उनकी भागीदारी को सुनिश्चित किया जा सके।

 धर्मपाल सिंह ने कहा कि अल्पसंख्यक बहुल स्थानों पर मूलभूत सुविधाओं को विकसित किया जाए। उन्होंने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबके प्रयास के द्वारा ही समाज और राष्ट्र को आगे बढ़ाया जा सकता है। विभाग को और अधिक लोककल्याणकारी बनाए जाने के लिए सभी को सामूहिक प्रयास करना होगा और अपने दायित्वों का ईमानदारी एवं निष्पक्षता से निर्वहन करना होगा। अल्पसंख्यक आयोग के सदस्यों ने मंत्री  को आयोग की व्यवहारिक समस्याओं से अवगत कराया जिसका मंत्री द्वारा शीघ्र ही निराकरण कराये जाने का आश्वासन दिया गया।

 इस अवसर पर अल्पसंख्यक राज्यमंत्री  दानिश आजाद अंसारी ने कैबिनेट मंत्री  धर्मपाल  को बैठक आयोजित करने हेतु धन्यवाद देते हुए कहा कि इस बैठक से विभाग एवं आयोग में एक नयी ऊर्जा व स्फूर्ति का संचार होगा और सामूहिक उत्तरदायित्व की भावना से कार्य करते हुए विभाग अपने उद्देश्यों की पूर्ति में सफल होगा।

      बैठक में राज्यमंत्री  दानिश आजाद अंसारी ने कहा कि मदरसों में पठन-पाठन नियमित रूप से एवं गुणवत्तापरक हो और अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के लिए कैरियर काउंसलिंग के कार्यक्रम चलाए जाए। उन्होंने कहा कि टीम भावना और पॉजिटिव अप्रोच से ही सभी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम पायदान के व्यक्ति तक पहुंचाया जा सकता है।

बैठक में प्रमुख सचिव  हिमांशु कुमार ने मंत्री  को विभाग के कार्यांे, दायित्वों और आगामी कार्ययोजनाओं के बारे में विस्तार से अवगत कराया और प्राप्त निर्देशों का यथाशीघ्र अनुपालन किये जाने को आश्वस्त किया। बैठक में अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की निदेशक  इंदुमती, विशेष सचिव  ब्रजेश उपाध्याय, विशेष सचिव  जे0पी0सिंह, अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अशफाक सैफी, मदरसा शिक्षा परिषद के अहमद जावेद तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Previous Post Next Post