जीजा ने साली का गला घोट कर कुएं में फेंका, दो दिन बाद जिंदा निकाली

 


अलवर (मानवी मीडिया): राजस्थान में अलवर शहर कोतवाली थाना क्षेत्र की रहने वाली छात्रा कॉलेज जाने के बाद लापता हुई जिसे दो दिन बाद आकाशवाणी के पास एक कुएं से घायल अवस्था में बरामद किया है। यह छात्रा दो मार्च को घर से कॉलेज जाने के बाद अचानक लापता हो गई थी। जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट अलवर शहर कोतवाली में दर्ज कराई गई थी। इस मामले में पुलिस ने आरोपी रिश्तेदार को हिरासत में लिया है।

पुलिस अधीक्षक तेजस्विनी गौतम ने बताया कि दो मार्च से लापता बालिका को ढूंढने में पुलिस लगातार लगी हुई थी। उस बालिका को कोतवाली पुलिस की स्पेशल टीम ने कुँए से सही सलामत ढूंढ कर बाहर निकाला। स्पेशल टीम ने तत्परता दिखाते हुए बालिका को कुएं से बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया। उन्होंने बताया कि इस संबंध में तत्परता दिखाते हुए मुकदमा दर्ज किया गया और ए एसआई विजेंद्र सिंह को जांच सौंपी गई। सीसीटीवी कैमरा खंगालने के बाद भी यह मालूम चला कि यह लड़की अपने जीजा के साथ जाती हुई दिखाई दी है।

पुलिस ने जीजा को पकड़कर पूछताछ की तो उसने बताया उसने गला घोट कर कुएं में फेंका है। एनडीआरएफ और एफएसएल टीम की सहायता से मंगल विहार स्थित नगर विकास न्यास के खाली प्लॉट में बने कुएं से कल देर रात को लड़की को जिंदा निकाला गया। लड़की की सांसे चल रही है। अभी जिंदा है। इस संबंध में आरोपी जीजा को हिरासत में लिया गया है। पूछताछ की जा रही है। पुलिस इस मामले में हर एंगल से जांच कर रही है।

पुलिस अधीक्षक के अनुसार प्रारंभिक पूछताछ में उसके जीजा ने बताया कि उसने पहले उसका गला घोंटा फिर उसे कुएं में धक्का दे दिया उसका इरादा इसकी हत्या करने का था। इधर, बालिका के सिर में चोट में गंभीर चोट आई है जिसके कारण बालिका को देर रात जयपुर रैफर किया गया है। बालिका के पिता ने कहा पुलिस ने हमारा पूरा साथ दिया।

Previous Post Next Post