ओमैक्स बिल्डर ग्रुप पर आयकर विभाग की कार्रवाई

नई दिल्ली (मानवी मीडिया) रियल एस्टेट क्षेत्र के बड़े समूह ओमैक्स बिल्डर ग्रुप पर आयकर विभाग की कार्रवाई लगातार जारी है। देशभर में कंपनी के कई ठिकानों पर विभाग की छापेमारी चल रही है। आयकर विभाग की यह कार्रवाई 36 घंटे बाद भी जारी है। आयकर विभाग ने सोमवार को टैक्स चोरी के सिलसिले में ओमैक्स बिल्डर ग्रुप के परिसरों में तलाशी अभियान शुरू किया था। सूत्रों के अनुसार, इस समय दिल्ली, एनसीआर, इंदौर, लखनऊ, लुधियाना में ग्रुप के 38 ठिकानों पर आयकर विभाग की जांच-पड़ताल चल रही है।

बरामद हुई 20 करोड़ की नकदी-

आयकर विभाग ने छापेमारी के दौरान बड़ी संख्या में नकदी जब्त की है। साथ ही विभाग ने कई दस्तावेज भी जब्त किये हैं। इस समूह का मुख्य ऑफिस कालकाजी दिल्ली में है। सिर्फ यहां से ही 12 करोड़ रुपये कैश बरामद हुआ है। साथ ही अब तक कुल 20 करोड़ रुपये की नकदी बरामद हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक, विभाग को 200 करोड़ रुपये का सॉफ्ट डेटा भी बरामद हुआ है।

कल भी जारी रहेगी छापेमारी-

आयकर विभाग बुधवार को भी ओमैक्स बिल्डर ग्रुप के ठिकानों पर जांच-पड़ताल जारी रख सकता है। अधिकारी लगातार इस ग्रुप के कारोबार से जुड़े आंकड़े खंगालने में लगे हैं। सूत्रों के अनुसार नोएडा सेक्टर-62 और सेक्टर-93 में भी छापेमारी की गई है। विभाग ने सोमवार सुबह सात बजे से ही ग्रुप के ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी थी। इसमें दिल्ली स्थित कालकाजी मुख्यालय व चंडीगढ़, दिल्ली-एनसीआर में 20 स्थानों के साथ देशभर में ओमैक्स के कई ठिकानें शामिल हैं।

250 अधिकारियों की टीम कर रही छापेमारी-

आयकर विभाग के करीब 250 अधिकारी इस जांच में लगे हैं। विभाग ने पूरी तैयारी के साथ इस ग्रुप के कार्यालयों में छापेमारी की है। ग्रुप पर बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी करने का आरोप है। साथ ही इस बिल्डर ग्रुप पर नकद राशि लेकर बड़ी संख्या में फ्लैट बेचने का भी आरोप है। छापेमारी में विभाग ने कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी बरामद किये हैं।

Previous Post Next Post