अखिलेश यादव,जयंत चौधरी ने गाजियाबाद में अन्न जल का लिया संकल्प

लखनऊ (मानवी मीडिया) समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष  जयंत चौधरी ने आज गाजियाबाद में संयुक्त प्रेसकांफ्रेंस में अन्न जल संकल्प लेते हुए कहा कि हम लोग चौधरी चरण सिंह  की विरासत को आगे बढ़ाते हुए किसानों-नौजवानों को अपमानित करने वाली भाजपा को हरायेंगे और हटायेंगे। हम लोग भाजपा की नकारात्मक राजनीति खत्म करके प्रदेश में भाईचारा और गंगा-जमुनी तहजीब के रास्ते खुशहाली और विकास की ओर ले जाना चाहते हैं। उन्होंने गठबंधन के प्रत्याशियों को विधानसभा चुनाव में भारी मतों से जिताने की अपील की

     अखिलेश यादव ने कहा कि जो माहौल दिखाई दे रहा है उससे भरोसा होता है कि उत्तर प्रदेश की जनता ने मन बना लिया है। यहां समाजवादी पार्टी गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। अगर कहीं सरप्राइज आएगा तो वह गुजरात से आएगा। जहां यूपी के बाद चुनाव होने हैं। राष्ट्रपिता गांधी का अपमान करने वालों को सबक सिखाने का काम गुजरात की जनता करेगी।

     संयुक्त प्रेसवार्ता में  अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी गठबंधन को मिल रहे भारी जनसमर्थन से भाजपा घबराई हुई है। यूपी का चुनावी परिणाम खुशहाली का परिणाम लेकर आएगा। उन्होंने कहा हम किसानों के साथ लघु उद्योग की भी मदद करेंगे। रोजगार-नौकरी के लिए मध्यम उद्योग को पैकेज देंगे। कानून व्यवस्था मजबूत करेंगे। समाजवादी कैंटीन और किराना स्टोर स्थापित करेंगे। गरीबों-मजदूरों को कैंटीन में 10 रुपए में समाजवादी थाली और मजदूरों को सस्ता राशन मिलेगा। शहरी क्षेत्र के श्रमिकों के लिए अर्बन इम्प्लाइमेंट गारंटी कानून लाया जाएगा।

     यादव ने कहा कि किसानों को जो लोग आतंकवादी, मवाली कहते थे, उनके आंदोलन में बाधाएं डाल रहे थे, अंततः वे किसानों के हिमायती होने का ढोंग कर रहे है। किसानों ने सराहनीय धैर्य और साहस का प्रदर्शन किया, जिसके आगे भाजपा सरकार को झुकना पड़ा और तीनों काले कृषि कानून वापस लेने पड़े। उन्होंने भाजपा के 80 करोड़ लोगों को राशन देने के दावे पर उन्होंने कहा कि सर्वेक्षण के सभी आंकड़ों में बताया जा रहा है। कि देश गरीब होता जा रहा है।

    अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौर में 90 मजदूरों की मौते हो गई। वे अपने घर नहीं पहुंच सके, इसके लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार है। भाजपा सरकार ने इनकी कोई मदद नहीं की। केवल समाजवादी और  राष्ट्रीय लोक दल  के लोगों ने मदद की। मृतक आश्रितों को 1-1 लाख रू0 की मदद दी। एक गर्भवती महिला को रास्ते में प्रसव हो गया और वह फिर पैदल चलकर अपने गांव गई।

यादव ने कहा गाजियाबाद में एक पुराना साइकिल कारखाना था उसे पुनः चालू किया जायेगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि शहरवासियों के पेट भरने वाले अन्नदाता के पक्ष में मतदान करेंगे और विकास तथा खुशहाली लाने वालों को ताकत देंगे।

    इस अवसर पर राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष  जयंत चौधरी ने कहा कि हम लोगों का मुकाबला अफवाह फैलाने वाले, नफरत फैलाने वालों, और झूठ फैलाने वालों से है। भाजपा ने किसानों को दबाने और अपमानित करने का काम किया है। नौकरी और रोजगार की मांग करने वाले नौजवानों पर लाठीचार्ज करती है और उन्हें पिटवाती है। जबकि हम लोग नौकरी और रोजगार की बात करते हैं। विकास और तरक्की की बात करते हैं। अखिलेश यादव के पास अनुभव है, और विजन है उत्तर प्रदेश को आगे ले जाने का।

     जयंत चौधरी ने कहा कि हमारी घोषणाएं सच्ची हैं और हम उत्तर प्रदेश को झूठ मुक्त सरकार देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा ने किसानों को जिस तरह से अपमानित किया है, हमें उनके अहंकार को चूर करना है। हमारे दिल में किसानों के साथ हुए दुर्व्यवहार की पीड़ा आज भी है। जिस तरह से भाजपा सरकार के मंत्री के बेटे ने लखीमपुर खीरी में किसानों को कुचला और जिस तरह से किसान आंदोलन में शामिल नेताओं के साथ अपमानजनक व्यवहार किया गया, उसे कोई नहीं भूल सकता है।

Previous Post Next Post