दलित युवक के साथ बदसलूकी, पेशाब पिलाने के बाद डंडों से पीटा; 8 पर केस

जयपुर (मानवी मीडिया): राजस्थान में एक क्रूरता का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जहां एक 25 वर्षीय दलित युवक पर हमला करके उसे मूत्र पीने के लिए मजबूर किया गया। पुलिस के अनुसार, 26 जनवरी की रात चुरू जिले के रुखसार गांव निवासी राकेश मेघवाल पर कुछ लोगों ने हमला किया। मामले में पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है

27 जनवरी को दर्ज एफआईआर में मेघवाल ने बताया है कि उसके गांव का रहने वाला उमेश जाट अचानक मेघवाल के घर आया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उसने मेघवाल से अपने साथ चलने के लिए कहा। जब मेघवाल ने जाने से इंकार कर दिया तो उमेश के साथ आए सात अन्य लोगों ने उसे जबर्दस्ती कार में बैठा लिया। इसके बाद आरोपी उसे लेकर खेतों की तरफ चले गए। 

मेघवाल की शिकायत पर रतनगढ़ थाने में दर्ज एफआईआर के मुताबिक आरोपियों राजेश और राजेश ने वहां पर शराब की बोतल निकाल ली और जबर्दस्ती मेघवाल को पिलाई। जब बोतल खाली हो गई तो राकेश, राजेश, उमेश, ताराचंद, अक्षय, दिनेश, बिदाड़ी चंद और बीरबल ने उसमें पेशाब किया। इसके बाद पीड़ित मेघवाल को जबर्दस्ती पिलाई। सिर्फ इतना ही नहीं, आरोपियों ने मेघवाल को जातिसूचक गालियां भी दीं। साथ ही जाट समुदाय का प्रतिरोध करने पर सबक सिखाने की बात भी कही।

पीड़ित के मुताबिक सभी आरोपियों ने इसके बाद उसे करीब आधे घंटे तक डंडे और रस्सी से पीटा। इसके चलते उसके पूरे शरीर पर चोट के निशान बन चुके हैं। पीड़ित ने बताया कि इसके बाद उसे यह सोचकर छोड़ दिया गया कि वह मर चुका है। मेघवाल ने बताया कि पिछले साल होली के मौके पर एक खास वाद्ययंत्र बजाने को लेकर यह लोग उससे नाराज हैं।

Previous Post Next Post