प्रधानमंत्री मोदी का जलवा बरकरार , विश्व नेताओं के बीच टॉप पर ,


नई दिल्ली (मानवी मीडिया)-अमेरिका की एक सर्वे कंपनी की ताजा रिपोर्ट के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने हुए हैं। मॉर्निंग कंसल्ट के सर्वे-ग्लोबल लीडर एप्रूवल ट्रैकर की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत के प्रधानमंत्री  मोदी को दो नवंबर के सर्वेक्षण में 70 प्रतिशत लोगों का समर्थन रहा जबकि 24 प्रतिशत ने उनको अस्वीकृत किया। लोकप्रियता की इस सूची में मैक्सिको के राष्ट्रपति आंद्रेस मानुएल लोपेज ओब्राडोर 66 प्रतिशत समर्थन के साथ दूसरे और इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्राग़ी 58 प्रतिशत समर्थन के साथ तीसरे स्थान पर रहे। लोकप्रियता की रैंकिंग में उसके बाद जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल (54प्रतिशत), आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मारिसन (47 प्रतिशत), अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (44 प्रतिशत), कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो(43 प्रतिशत), जापान के प्रधानमंत्री फूमियो किशीदा (42 प्रतिशत), और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन (41प्रतिशत) का स्थान है। कुल 13 वैश्विक नेताओं को लेकर बनायी गया इस रिपोर्ट के अनुसार ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को जन समर्थन घट कर (40 प्रतिशत) रह गया है। स्पेन के प्रधानमंत्री पेद्रा सांचेज (37 प्रतिशत), फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्राें (36 प्रतिशत) और ब्राजील के राष्ट्रपति जायेर बोल्सोनारो (35 प्रतिशत) भी लोकप्रियता की इस सूची में सबसे निचले पायदानों पर हैं।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने मार्निंगकंसल्ट डाॅट काम की रिपोर्ट के साथ ट्वीट किया, “ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी सबसे लोकप्रिय नेता बने हुए हैं। वह 70 प्रतिशत समर्थन के साथ वह एक बार फिर विश्व के नेताओं में सबसे ऊपर हैं।”

वैसे अगस्त 2019 की तुलना में मोदी की लोकप्रियता घटी है। इसी एजेंसी के सर्वे में छह अगस्त 2019 को मोदी को समर्थन का स्तर 82 प्रतिशत था। प्रौद्योगिकी पर आधारित कंपनी मार्निंग कंसल्ट का दावा है कि वह वैश्विक नेताओं की लोकप्रियता में उतार-चढ़ाव को आंकने के लिए हर रोज विश्व भर में 11,000 लोगों का साक्षात्कार करती है। इसी तरह अमेरिका की राजनीतिक नब्ज को समझने के लिए कंपनी अमेरिका में 5000 लोगों की राय लेती है

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक