पुलिस हिंसा में मारे गए सफाईकर्मी के परिजनों से प्रियंका गांधी ने की मुलाकात


लखनऊ (मानवी मीडिया)कांग्रेस महासचिव  प्रियंका गांधी ने आज अपने लखनऊ आवास पर आगरा में पुलिस कस्टडी में मारे गये सफाई कर्मचारी  अरूण बाल्मीकि की पत्नी, माँ और भाई से मुलाकात की और न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया। उनकी पूर्व घोषणा के मुताबिक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू एवं राष्ट्रीय  रोहित चौधरी  ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय में परिजनों को तीस लाख (30 लाख) रूपये की संवेदना राशि का चेक प्रदान किया।

गौरतलब है कि 19 अक्टूबर 2021 को जनपद आगरा में पुलिस की हिरासत में  अरूण बाल्मीकि की मृत्यु हो गयी थी। परिजनों ने पुलिस पर बर्बरता का आरोप लगाया था और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आगरा जाकर परिवार के प्रति संवेदना जताते हुए उनकों न्याय दिलाने की लड़ाई में पूरा साथ देने का वादा किया था। उन्होंने कांग्रेस पार्टी की ओर से तीस लाख रूपये की सहायता राशि देने का वादा किया था।

आज अरूण बाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात के दौरान  प्रियंका गांधी  ने कहा कि अरूण बाल्मीकि के परिवार को न्याय देने के लिए यूपी की योगी सरकार ने कुछ भी नहीं किया, लेकिन मैं न्याय की आवाज को दबने नहीं दूंगी। उन्हांेने आरोप लगाया कि सरकार पीड़ितो को सरक्षण देने के बजाय उन पर ही आक्रमण करती है।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेन्स में प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू  ने अरूण बाल्मीकि के परिजनों को 30 लाख रूपये का चेक सौंपते हुए योगी सरकार पर गम्भीर सवाल उठाये।

 अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अरुण के घरवालों का आरोप है कि पुलिस ने थाने में ले जाकर अरुण के साथ मार पीट की, जिसके कारण उसकी मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने अरुण के परिजनों को बुलाया और कहा कि अरुण वाल्मीकि एकाएक गिर गए हैं और उन्हें अस्पताल ले जाना है।अस्पताल ले जाने पर डॉक्टर ने स्पष्ट रूप से बताया कि उनकी मृत्यु हो चुकी है।

अजय कुमार लल्लू ने कहा कि अफसोस की बात है कि है कि सरकार ने जांच कार्यवाही की बात की लेकिन आज तक पुलिस के किसी भी अधिकारी व कर्मचारी पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। न ही उनके खिलाफ कोई विभागीय कार्यवाही हुई। न ही कोई जांच अब तक आगे बढ़ पाई है। परिवार के लोगों कोे प्रताड़ित किया गया, डराया,  धमकाया गया। परिवार के लोग लगातार न्याय की मांग करते रहे।

 अजय कुमार लल्लू  ने मुख्यमंत्री से पूंछा की क्या एक गरीब, बाल्मिकी समाज के व्यक्ति के साथ आपका यही न्याय है। ऐसी क्या परिस्थिति है कि दोषी पुलिस कर्मियों पर अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। कौनसी ऐसी परिस्थिति है पुलिस कर्मियों की कोई जांच नहीं हुई। ये सरकार इस घटना को दबाना चाहती है पूरी घटना पर पर्दा डालना चाहती है।


कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू  ने कहा कि महासचिव प्रियंका गांधी और एक एक कांग्रेस कार्यकर्ता पीड़ित परिवार के साथ खड़ा है। जब तक पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिल जाता हम इनकी लड़ाई सड़क से सदन तक लड़ते रहेंगे।


उक्त प्रेसवार्ता में राष्ट्रीय सचिव  रोहित चौधरी जी तथा कांग्रेस कमेटी के प्रदेश उपाध्यक्ष उपेन्द्र सिंह महासचिव  श्याम सुंदर उपाध्याय प्रदेश सचिव  विनेश सनवाल तथा शरद सिंह जिला कांग्रेस कमेटी आगरा के अध्यक्ष  राघवेन्द्र सिंह मीनू तथा शहर अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह ‘‘चिल्लू’’ एवं मीड़िया विभाग के वाइस चेयरमैन  डा0 पंकज श्रीवास्तव एवं मीड़िया संयोजक  ललन कुमार जी मौजूद थे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक