उ0प्र0: संवेदनशील जिलों में 20 आईपीएस अधिकारी नोडल प्रमुख के रूप में प्रतिनियुक्त


लखनऊ (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के विरोध में 18 अक्टूबर को बुलाए गए राष्ट्रव्यापी बंद के मद्देनजर संवेदनशील जिलों के नोडल प्रमुख के रूप में 20 आईपीएस अधिकारियों की प्रतिनियुक्तिकी है। अतिरिक्त डीजी, कानून व्यवस्था, प्रशांत कुमार ने बताया कि राज्य में सभी अधिकारियों की 18 अक्टूबर तक की छुट्टी रद्द कर दी गई है। जिन गांवों में प्रमुख किसान नेताओं की मौजूदगी है, वहां वरिष्ठ अधिकारी उनसे मिलेंगे और आपस में संवाद करेंगे।

20 आईपीएस अधिकारियों में एडीजी लखनऊ जोन एस.एन. सबत व आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह दोनों लखीमपुर खीरी में डेरा डालेंगे। बहराइच में गोरखपुर जोन के एडीजी अखिल कुमार, डीआईजी देवीपाटन राकेश सिंह व पुलिस अधीक्षक (एसपी) बरेली आशुतोष शुक्ला तैनात रहेंगे। मेरठ रेंज के महानिरीक्षक प्रवीण कुमार गाजियाबाद में तैनात रहेंगे। डीआईजी रेलवे सत्येंद्र कुमार सिंह शामली में रहेंगे। पीलीभीत में आईजी बरेली रेंज रामित शर्मा, एसपी यूपी 112, अजय पाल और डीजीपी मुख्यालय से एएसपी अनिल कुमार झा तैनात रहेंगे।

डीआईजी ईओडब्ल्यू हीरालाल को मुजफ्फरनगर में कैंप करने और डीआईजी विजिलेंस एल.आर. कुमार अमरोहा में रहेंगे। शाहजहांपुर में डीआईजी रविशंकर छब्बी और एएसपी राम सुरेश को प्रतिनियुक्त किया गया है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र