उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा,15 दिवसीय इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में प्रदर्शनी का आयोजन


 लखनऊ (मानवी मीडिया)आजादी का अमृत महोत्सव’’ के अवसर पर उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा आगामी 16 से 30 अक्टूबर तक इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 15 दिवसीय खादी एवं ग्रामोद्योग प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा। इस अवसर पर देश के सुप्रसिद्ध फैशन डिजाइनर्स आसमा हुसैन, रूना बनर्जी, रीना ढाका, रीतू बैरी, हिम्मत सिंह तथा फरहा अंसारी द्वारा डिजाइन किये गये खादी वस्त्रों पर आधारित वृहद फैशन-शो का भी आयोजन होगा। इसके साथ ही सरकार द्वारा संचालित विभिन्न रोजगारपरक योजना के तहत कारीगरों में टूलकिटएवं लाभार्थियों को ऋण आवेदन पत्रों का वितरण भी किया जायेगा।

      यह जानकारी अपर मुख्य सचिव खादी एवं ग्रामोद्योग डा0 नवनीत सहगल ने दी। उन्होंने बताया कि खादी को आमजन मंे और अधिक लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से पहले भी खादी फैशन-शो का आयोजन किया जाता रहा है, जिसकी हर तरफ काफी प्रसंशा भी हुई है। उन्होंने बताया कि इस बार के फैशन-शो का आयोजन उ0प्र0 खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड एवं फर्स्ट इण्डिया द्वारा संयुक्त रूप से किया जायेगा। फैशन-शो में फैशन डिजाइनर्स आसमा हुसैन, रूना बनर्जी, रीना ढाका, रीतू बैरी के साथ-साथ जयपुर के फैशन डिजाइनर हिम्मत सिंह एवं फरहा अंसारी के डिजाइन किये हुए खादी के परिधान आकर्षण का केन्द्र होंगे। उन्होंने बताया कि इसके माध्यम से प्रदेश के युवावर्ग को खादी से जोड़ने की मुहिम को तीव्र गति मिलेगी।

      अपर मुख्य सचिव ने बताया कि इस अवसर पर स्वरोजगार की स्थापना हेतु लाभार्थियों में दोना पत्तल मशीन, माटीकला के उद्योग में लगे कारीगरों एवं हस्तशिल्पियों में विद्युत चालित चाक का वितरण होगा। साथ ही पॉपकार्न मेकिंग मशीन, मौन पालन बॉक्स एवं ऋण स्वीकृत पत्रों का भी वितरण किया जायेगा। इसके अतिरिक्त प्रदेश में खादी का उत्पादन बढ़ाने के लिए खादी संस्थाओं को सोलर चरखे भी प्रदान किये जायें

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र