वीजा आवेदन के लिए स्‍वास्‍थ्‍य, सुरक्षा और सुविधा को ध्यान दे रहे हैं यात्री


नयी दिल्ली (मानवी मीडिया): कोरोना महामारी के कारण लगे प्रतिबंधों के हटने के साथ, अंतर्राष्‍ट्रीय यात्रा चरणबद्ध तरीके से शुरू हो रही है। इस बीच, सुरक्षित और सुविधाजनक यात्रा अनुभव के लिये प्रीमियम सेवाएं चाहने वाले यात्रियों का एक समूह उभरा है।

पिछले छह महीनों में प्रोसेस हुए वीजा के डाटा का विश्‍लेषण यही बताता है। यह चलन वीएफएस ग्‍लोबल की पेशकश वीजा एट योर डोरस्‍टेप (वीएवायडी) सर्विस के लिये अनुरोध करने वाले ग्राहकों की संख्‍या में महत्‍वपूर्ण बढ़ोतरी के परिणामस्‍वरूप प्रकाश में आया है। यह वै‍कल्पिक सेवा ग्राहकों को उनके घर या उनकी पसंद की किसी भी अन्‍य जगह से सुविधा के साथ उनका वीजा आवेदन स‍बमिशन प्रोसेस को पूरा करने के लिये सशक्‍त बनाती है। इस प्रीमियम सर्विस के माध्‍यम से ग्राहक अपना आवेदन स‍बमिट कर सकते हैं, बायोमेट्रिक्‍स के लिये एनरोल हो सकते हैं और अपनी पसंद के लोकेशन पर अपने पासपोर्ट को कुरियर से प्राप्‍त कर सकते हैं।

वीएफएस ग्‍लोबल के डाटा एनालीसिस के अनुसार, वीएवायडी सर्विसेस चुनने वाले भारत से विदेश जाने वाले यात्रियों की संख्‍या इस साल जनवरी और जुलाई के बीच छह गुना से ज्‍यादा बढ़ी है। महामारी की दूसरी लहर मई तक एक बाधा बनी हुई थी, जिसके बाद जून में अंतर्राष्‍ट्रीय सीमाओं का दोबारा खुलना शुरू हुआ और केवल एक महीने में यह संख्‍या दोगुने से ज्‍यादा हो गई।

वीएफएस ग्‍लोबल में दक्षिण एशिया, मध्‍य पूर्व और उत्‍तरी अफ्रीका और अमेरिका के रीजनल ग्रुप सीओओ विनय मल्‍होत्रा ने कहा, “आज के ग्राहकों के लिये सुरक्षा और स्‍वास्‍थ्‍य पर ज्‍यादा ध्‍यान के साथ टचलेस यात्रा महत्‍वपूर्ण है। वीएवायडी सर्विसेस लेने वालों की संख्‍या में बढ़त ग्राहकों की बदलती पसंद का एक अन्‍य संकेत है। डिजिटल उपभोक्‍ता अनुभव तेजी से उभर रहा है, जिसे देखते हुए हमें ऐसी प्रीमियम सेवाओं की मांग बढ़ने की उम्‍मीद है, जो हमारे ग्राहकों को सुरक्षित यात्रा को प्राथमिकता देने में समर्थ बनाती हों।”

अभी वीएवायडी सर्विस भारत से यूके, ऑस्ट्रिया, क्रोएशिया, चेक रिपब्लिक, डेनमार्क, एस्‍टोनिया, फिनलैण्‍ड, फ्रांस, जर्मनी, हंगरी, आइसलैण्‍ड, इटली, लातविया, लिथुआनिया, लक्‍जेमबर्ग, स्‍लोवेनिया, पुर्तगाल, स्‍लोवाकिया, स्विट्जरलैण्‍ड और यूक्रेन जाने वाले यात्रियों के लिये उपलब्‍ध है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र