लखनऊ पोषण अभियान से होगा, कुपोषण मुक्त समाज--अभिषेक प्रकाश


लखनऊः (मानवी मीडिया) जिलाधिकारी  अभिषेक प्रकाश के निर्देश पर मुख्य विकास अधिकारी अश्वनी कुमार की अध्यक्षता में डिस्ट्रिक्ट कन्वर्जेंस प्लान कमेटी की बैठक डा0 ए0पे0जे0 अब्दुल कलाम सभागार कलेक्ट्रेट लखनऊ में आयोजित की गयी।

 मुख्य विकास अधिकारी अश्वनी कुमार ने पोषण अभियान के तहत महिलाओं और बच्चों के पोषण स्तर को बेहतर करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए उन्होंने कहा कि इसका मुख्य उद्देश जन आंदोलन और जनभागीदारी से कुपोषण को मिटाना है मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि जनभागीदारी और समाज के हर तबके के लोगों जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संस्थाओं, अधिकारी कर्मचारियों की भागीदारी को शत-प्रतिशत सुनिश्चित करते हुए ही समाज में व्याप्त कुपोषण को दूर किया जा सकता है सबसे महत्वपूर्ण की समाज के वंचित एवं कमजोर वर्ग के लोगों तक कुपोषण के कारणों की जानकारी आसानी से पहुंचाई जाए दूसरी तरफ बच्चों गर्भवती एवं धातर महिलाओं को पौष्टिक आहार, एनीमिया स्वच्छता और साफ सफाई के बारे में जागरूक करने का प्रयास सही तरीके से किया जाए ।राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत समाज कल्याण ,स्वास्थ्य ,आपूर्ति शिक्षा, पेयजल एवं शिक्षा विभाग को आपस में समन्वय स्थापित कर कुपोषण को दूर करने के लिए कार्य करना है मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि जागरूकता अभियान चलाना है वही किचन गार्डन के तरीके को अपनाने एवं पोषण माह के तहत सभी प्रखंडों पंचायतों व आंगनबाड़ी केंद्रों में विशेष आयोजन करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी सीडीपीओ को कार्य के प्रति लापरवाही और गुणवत्तापूर्ण कार्य न करने के कारण नाराजगी व्यक्त की और स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी की उपस्थिति न होने के कारण नाराजगी व्यक्त की और सख्त निर्देश दिया कि बैठक में स्वयं संबंधित अधिकारी उपस्थित हो इस बैठक में बेसिक शिक्षा अधिकारी विजय प्रताप सिंह ,जिला विकास अधिकारी डीके दोहरे ,जिला कृषि अधिकारी रामसागर गुप्ता,जिला कार्यक्रम अधिकारी अखिलेश दुबे सहित संबंधित अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहे।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र