गृह एवं सहकारिता मंत्री, अमित शाह तथा मुख्यमंत्री योगी ने वाराणसी में बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन किया

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  ने निर्माणाधीन श्री काशी

विश्वनाथ धाम के एक प्रेजेण्टेशन का अवलोकन किया

लखनऊ: (मानवी मीडिया) गृह एवं सहकारिता मंत्री, भारत सरकार  अमित शाह तथा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद वाराणसी में श्री काशी विश्वनाथ मन्दिर में बाबा विश्वनाथ का दर्शन-पूजन किया। इस अवसर पर केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  ने निर्माणाधीन  काशी विश्वनाथ धाम के एक प्रेजेण्टेशन का अवलोकन किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  ने 8 मार्च, 2019 को श्री काशी विश्वनाथ धाम की आधारशिला रखी थी।


मुख्यमंत्री  ने केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  को अवगत कराया कि श्रद्धालुओं के दृष्टिगत मन्दिर परिसर, मन्दिर चौक, यात्री सुविधा केन्द्र, मुमुक्षु भवन, भोग शाला, यूटिलिटी बिल्डिंग, सुरक्षा भवन बनाया जा रहा है। इसमें से अधिकतर कार्य पूर्ण कर लिए गए हैं। जेटी और घाट डेवलेपमेण्ट का कार्य भी चल रहा है। मण्डलायुक्त वाराणसी  दीपक अग्रवाल ने केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  को निर्माण कार्यों की अद्यतन जानकारी दी।


मुख्यमंत्री  ने केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  को अंगवस्त्रम, रुद्राक्ष की माला और पीतल का शंख देकर सम्मानित किया।


इस अवसर पर पिछड़ा वर्ग कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण मंत्री  अनिल राजभर, पर्यटन एवं धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ0 नीलकंठ तिवारी, स्टाम्प एवं न्यायालय शुल्क, पंजीयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  रविन्द्र जायसवाल, विधान परिषद सदस्य स्वतंत्रदेव सिंह तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ज्ञातव्य है कि जलासेन घाट से बाबा दरबार को जोड़ने वाले कॉरिडोर की भव्यता भी निखरकर सामने आने लगी है। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर को सुन्दर रूप देने के लिए सात तरह के विशेष पत्थरों का इस्तेमाल हो रहा है। इसमें बालेश्वर स्टोन, मकराना मार्बल, कोटा ग्रेनाइट और मैडोना स्टोन का मुख्य रूप से इस्तेमाल हो रहा है, जो आने वाले दिनों में देशी व विदेशी पर्यटकों और श्रद्धालुओं को आकर्षित करेगा।

वर्तमान में कॉरिडोर निर्माण के दौरान मुख्य परिसर में चारों तरफ नक्काशीदार खम्भे, मेहराब और महीन जालियां लगी हैं। पूरा कॉरिडोर मकराना मार्बल सहित अन्य सात तरीकों के पत्थर से तैयार किया जा रहा है। इनमें मकराना पत्थरों के लिए काम शुरू हो चुका है। श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर परियोजना का खास आकर्षण गंगा जी की ओर से होगा। इस तरफ भी भव्य गेट बनाया जाएगा।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र