कानपुर औद्योगिक विकास में आउटर रिंग रोड की एहम भूमिका : सतीश महाना

गोल्डी ग्रुप के आकाश गोयनका तथा कानपुर प्लास्टिपैक के शशांक अग्रवाल बने सी.आई.आई. कानपुर जोन के कमशः अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष


लखनऊ (मानवी मीडिया)वर्चुअल माध्यम से आयोजित सी.आई.आई कानपुर मेंबर्स मीट में गोल्डी मसाले ग्रुप के आकाश गोयनका तथा कानपुर प्लास्टिपैक के शशांक अग्रवाल को सी.आई.आई कानपुर जोन का कमशः अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष घोषित किया गया I  


इस कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित स्मार्ट सिटीज़ सत्र को सम्बोधित करते हुए उ0 प्र0 सरकार के औद्योगिक मंत्री  सतीश महाना ने कहा की भूमि परिवर्तन से पहले आवश्यक है मानसिक परिवर्तन I उन्होंने कहा की कानपुर में अभी भी औद्योगीकरण हेतु अपार सम्भावनाये व्याप्त है I कानपुर में नए उद्द्योगों का लगना इस बात का साक्षात प्रमाण है I कपड़ा, खाद्य प्रसंस्करण, खाद्यान तेल, साबुन तथा डिटर्जेंट के साथ साथ रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में कानपुर अग्रणी है I उन्होंने बताया की कानपुर का कमांड कंट्रोल सेंटर अत्यधिक आधुनिक है I विभागों के मध्य बेहतर समन्वय और सामंजस्य से कानपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को और गति प्रदान की जा सकती है I


सत्र को सम्बोधित करते हुए कानपुर आयुक्त तथा कानपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अध्यक्ष डॉक्टर राज शेखर ने बताया की कानपुर को स्मार्ट सिटी बनाने हेतु चिन्हित 25 प्रोजेक्ट्स में से 12 प्रोजेक्ट्स एस.पी.वी. के माध्यम से पूरे कर लिए गए है और सॉलिड वेस्ट प्रबंधन, ट्रैफिक प्रबंधन, बिजली आपूर्ति प्रबंधन, जल प्रबंधन, इ-पाठशाला, स्मार्ट पार्किंग तथा सिटी सर्विलांस आदि प्रोजेक्ट्स प्रगति पर है I  राज शेखर ने बताया की 100 इलेक्ट्रॉनिक बसों का आर्डर दे दिया गया और सितंबर तक उनके आगमन का अनुमान है और साथ ही साथ इनकी चार्जिंग स्टेशन की व्यवस्था भी की जा रही है I प्रथम चरण के अंतर्गत 2.7 की. मी. स्मार्ट सड़क का निर्माण पूरा हो चूका है और दूसरा चरण शीघ्र ही प्रारम्भ करने की तैयारी है 

सी.आई.आई. नॉर्थेर्न रीजन के पूर्व अध्यक्ष समीर गुप्ता ने अपने सम्बोधन में स्मार्ट सिटी के प्रमुख स्तम्भों के रूप में सुचारू बिजली व्यवस्था, जल संचयन, सुचारू यातायात व्यवस्था तथा आधुनिक प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल पर बल दिया I उन्होंने बताया की सतत आर्थिक विकास हेतु अक्षय ऊर्जा के इस्तेमाल को बल देना होगा I

सत्र को संबोधित करते हुए सी.आई.आई. के पूर्व अध्यक्ष मनोज गुप्ता ने अपने अभिभाषण में इंटरनेट ऑफ़ थिंग्स, आर्टिफिशल इंटेलिजेंस तथा बिग डाटा आधारित स्मार्ट सड़क के निर्माण के फायदे गिनाये I उन्होंने बताया की स्मार्ट सड़क ऑटोमेशन, ऊर्जा दक्षता, कम लागत, बेहतर जन सुरक्षा, शुद्ध वातावरण को बढ़ावा देने के साथ साथ यातायात समस्याओं और सड़क दुर्घटनाओं में भी कमी आएगी I


आकाश गोयनका, अध्यक्ष सी.आई.आई. कानपुर जोन ने बताया की भारत एवं मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश को वैश्विक औद्योगिक गड बनाने के लिए शहरीकरण के साथ साथ औद्योगीकरण करना भी अत्यधिक महत्वपूर्ण है I उन्होंने कहा की राज्य को ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था बनाने हेतु कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, ओ.डी.ओ.पी. क्लस्टर, आई.टी. एवं इलेक्ट्रॉनिक्स, स्टार्ट-अप तथा रक्षा उद्पादन प्रमुख क्षेत्र है I

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश में 40 घंटे तक नहीं थमेगी बारिश:मौसम वैज्ञानिक