महिला की मौत पर अमित शाह ने जताया शोक


कोलकाता (मानवी मीडिया़):- केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को उत्तरी 24 परगना जिले में स्थित निमता रेजिडेंस में पिछले माह कथित तौर पर तृणमूल समर्थकों के हमले में 84 वर्षीय शोभा मजुमदार के निधन पर शोक व्यक्त किया।

तृणमूल समर्थकों पर  मजुमदार और उनके बेटे की बेरहमी से पिटाई करने का आरोप है।  शाह ने ट्वीट कर कहा, “बंगाल की बेटी शोभा मजुमदार जी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ जिन्हें तृणमूल के गुंडों ने बेरहमी से पीटा था।”

एक महीने तक चेहरा समेत विभिन्न हिस्सों पर अपनी जख्मों से लड़ने के बाद श्रीमती मजुमदारने सोमवार को तड़के निमता थाना क्षेत्र के पटना-ठाकुरतला निवास में अंतिम सांस ली।उत्तरी दमदम विधानसभा क्षेत्र के वार्ड नंबर छह की निवासी श्री मजुमदार 27 फरवरी को अपने पुत्र और भाजपा कार्यकर्ता गोपाल मजुमदार को बचाने का प्रयास कर रही थीं, तो उसी दौरान युवकों के एक गिरोह ने उनपर भी हमला कर दिया था।गोपाल जन्म से ही दिव्यांग है। हमलावर किसी तरह घर में घुसने में कामयाब रहे और मां-बेटे को मारकर बुरीतरह घायल कर दिया था। मजुमदार को चार-पांच दिनों तक अस्पताल में ही भर्ती रहना पड़ा। बाद में उन्हें निमता स्थित निवास पर ही उनका इलाज किया जा रहा था, जहां आज सुबह उन्होंने आखिरी सांस ली।इस हमले के दौरान  मजुमदार का चेहरा बुरीतरह क्षतिग्रस्त हो गया था। उनके उपर बनाये गया वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसकी तीखी आलोचना की गयी।केंद्रीय गृह मंत्री ने ट्वीट किया,“उनके परिवार का दर्द और घाव लंबे समय तक ममता दीदी (मुख्यमंत्री एवं तृणमूल प्रमुख) को परेशान करेगा। बंगाल हिंसा मुक्त राज्य के लिए लड़ेगा, तथा बंगाल हमारी बहनों और माताओं के लिए एक सुरक्षित राज्य की लड़ाई लड़ेगा।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र