उ0प्र0::ज्यादा कैश देखकर चोर को आया हार्ट अटैक, अस्पताल में छोड़कर साथी फरार


बिजनौर (मानवी मीडिया): उत्तर प्रदेश के बिजनौर से चोरी की ऐसी घटना सामने आई है जिसे जानकर शायद ही आप अपनी हसी रोक पाए। एक जनसुविधा केंद्र में दो चोरों ने नगदी से भरा बैग उड़ा लिया। घर पहुंचकर बंटवारे के लिए रकम गिनने लगे तो 13 लाख की रकम देखकर एक चोर की आंखें फटी की फटी रह गईं और उसे वहीं पर हार्ट अटैक पड़ गया। चोर को 40-50 हजार की नगदी होने की ही उम्मीद थी। हालत बिगड़ने पर साथी ने उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराकर फरार हो गया, वही अस्पताल में चोरी की रकम से उसका इलाज हुआ। लेकिन सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बुधवार को दोनों चोरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।यह मामला उत्तर प्रदेश के बिजनौर कोतवाली देहात का है। कस्बे के तिराहे पर पित्तनहेड़ी जिया निवासी उरूज हैदर का जनसुविधा केंद्र है। 16 फरवरी को चोरों ने केंद्र से नकदी, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस के साथ ही 13 लाख कैश चोरी कर लिया था। इसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई गई थी। घटना की सीसीटीवी फुटेज भी सामने आई थी, लेकिन चोरों की शक्ल पहचान में नहीं आ रही थी।

मामले संबंधी जानकारी देते हुए एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह ने बुधवार को  बताया कि नगीना थाना क्षेत्र के गांव आलेअलीपुर उर्फ किरतपुर निवासी नौशाद व एजाज को गिरफ्तार किया गया है। उनके पास से तीन लाख 70 हजार रुपये, दो तमंचे और घटना में प्रयुक्त एक बाइक बरामद की है। नौशाद शातिर चोर है, जबकि एजाज ने पहली बार चोरी में आजमाया था। हालांकि आरोपितों ने पूछताछ में केंद्र से साढ़े सात लाख की रकम मिलने की बात कही है।बकौल एसपी, नौशाद और एजाज घटना के बाद नगदी भरा बैग लेकर नौशाद के घर पहुंचे। वहां पर रकम को गिना गया। मोटी रकम देखकर एजाज को हार्टअटैक आ गया। नौशाद तुरंत उसे गाड़ी किराए पर कर नगीना के एक अस्पताल में ले गया और वही छोड़कर चला गया। वहां से उसे बिजनौर में शास्त्री चौक रोड स्थित हास्पिटल ले जाया गया। तीन दिन तक उसका इलाज चला। इलाज में उसका करीब दो लाख का खर्च हो गया। इंस्पेक्टर लव सिरोही ने बताया कि आरोपित एजाज ने बताया कि उसे 40-50 हजार रुपये मिलने की उम्मीद थी। लाखों की रकम देखकर उसका बीपी बढ़ गया। वहीं नौशाद ने कुछ रुपये का जुआ खेल लिया। पुलिस ने दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया है।

Popular posts from this blog

उ0प्र0:: सीओ महिला सिपाही के साथ आपत्तिजनक स्थित में पकड़े गए

लखनऊ ,उ0प्र0में कोरोना की तीसरी वेव ने दी दस्तक, 50 से ज्यादा मौत, मुख्यमंत्री योगी ने दिए सख्त निर्देश

उत्तर प्रदेश राज्य भण्डारण निगम के गोदामों में तीस हज़ार श्रमिक, जो ठेकेदारों द्वारा भर्ती किये जा रहे थे उन्हें नियमितीकरण कराने के लिए , मुख्यमंत्री योगी को लिखा पत्र