सुभाष चंद्र बोस की जयंती समारोह में शामिल होंगे मोहन भागवत


नई दिल्ली  (मानवी मीडिया)  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  प्रमुख मोहन भागवत नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती के अवसर पर संगठन के एक कार्यक्रम में भाग लेंगे। वह 23 जनवरी को कोलकाता में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर शहीद मीनार मैदान में एक सभा को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम का आयोजन कोलकाता के शहीद मीनार मैदान में किया जाएगा। संघ के सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में मोहन भागवत नेताजी की विचारधारा, विजन और देश की आजादी के लिए उन्होंने कैसे लड़ाई लड़ी, इस बारे में बात करेंगे। समाचार एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी है। 

कई संवेदनशील मुद्दों पर दे सकते हैं बयान

23 जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत नागरिकता कानून, जन्म नियंत्रण विधेयक जैसे संवेदनशील मुद्दों अपनी बात रख सकते हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन संघ द्वारा किया गया है। मालूम हो कि कोलकाता के शहीद मीनार मैदान में आयोजित होने वाले कार्यक्रम की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। कार्यक्रम में पूरे प्रदेश से हजारों स्वयंसेवक भाग लेंगे।

प्रदेश भर से हजारों स्वयंसेवक कार्यक्रम में होंगे शामिल

संघ सूत्रों के मुताबिक, इस कार्यक्रम में मोहन भागवत नेताजी की विचारधारा, विजन और देश की आजादी के लिए उन्होंने किस तरह से लड़ाई लड़ी, इस बारे में बात करेंगे। सूत्रों ने कहा है कि 23 जनवरी को आयोजित होने वाले कार्यक्रम में प्रदेश भर से हजारों स्वयंसेवक शामिल होंगे। उन्होंने कहा है कि भागवत 18 जनवरी को कलकत्ता पहुंच सकते हैं। मालूम हो कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस का जन्म 23 जनवरी, 1897 को ओडिशा के कटक में अधिवक्ता जानकीनाथ बोस के घर हुआ था। उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। सुभाष चंद्र बोस को आजाद हिंद फौज की स्थापना के लिए भी जाना जाता है।

Previous Post Next Post